English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-08-15 173138

आजादी का अमृत महोत्सव मनाने के लिए कांग्रेस की बुलाई सभा में राजस्थान से सीएम अशोक गहलोत ने एक बार फिर अपने विरोधियों पर जमकर निशाना साधा।

 

प्रधानमंत्री मोदी और केजरीवाल को एक बराबर बताया और बातों ही बातों में बिना नाम लिए कांग्रेस नेता सचिन पायलट पर भी निशाना साधा।

उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने तो गांधी जी को छोड़ दिया,उनकी फोटो तक नहीं लगाते। लेकिन बीजेपी वाले तो मजबूरी में लगाते हैं। गहलोत ने मंच से प्रधानमंत्री मोदी की तरह ‘भाइयों-बहनों’ कहकर दो बार मीमिक्री की, जिस पर कांग्रेसियों ने खूब ताली बजाई। बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री ने कहा कि पैरा मिलिट्री फोर्सेज (अर्धसैनिक बल) की आड़ में नोटों की तस्करी हो रही है। CRPF जैसे फ़ोर्स और पुलिस की गाड़ी में दो हज़ार के नोट भरकर बीजेपी दफ़्तरों में सरकार गिराने के लिए लाया जाता है ताकि कोई पुलिस की गाड़ी में चेकिंग नहीं हो।

Also read:  कोयले की कमी को लेकर रणदीप सुरजेवाला ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा- 'मोदी जी, 'बिजलीघरों में कोयला नहीं है…

कांग्रेस नेता सचिन पायलट पर निशाना!

राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री और टोंक से कांग्रेस विधायक सचिन पायलट का नाम लिए बिना CM गहलोत ने कहा, ”कांग्रेस में कुछ लोग कार्यकर्ताओं को यह कहकर भड़का रहे हैं कि कार्यकर्ताओं का मान सम्मान का ख्याल रखा जाना चाहिए। अरे, ऐसे लोग मुझे सिखाएंगे कार्यकर्ताओं के मान सम्मान के बारे में, जिन्होंने कभी कार्यकर्ताओं को पद पर रहते पूछा ही नहीं।”

Also read:  सुप्रीम कोर्ट में हुई सोशल मीडिया को कानून के दायरे में लाने पर सुनवाई, केंद्र से जवाब मांगा

बता दें कि ग़ौरतलब है कि सचिन पायलट अपने बयानों में राजनीतिक नियुक्तियों में मंत्रिमंडल विस्तार में संगठन में जगह देने के मुद्दे पर समय-समय पर पार्टी के लिए ज़मीनी तौर पर काम करने वाले नेताओं के कार्यकर्ताओं की मान सम्मान की बात करते रहे हैं। मुख्यमंत्री ने आज हालांकि अपने संबोधन में सचिन पायलट का नाम नहीं लिया लेकिन माना जा रहा है कि उन्होंने सचिन पायलेट के ही बयानों का जवाब दिया है।

Also read:  छत्तीसगढ़ बीजेपी में होगा बड़ा बदलाव, रमन सिंह ने की पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात