English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली: 

देश की राजधानी दिल्‍ली में इजरायली दूतावास के पास शुक्रवार शाम को हुए धमाके से कुछ देर के लिए अफरातफरी की स्थिति बन गई. विस्‍फोट स्‍थल विजय चौक से करीब डेढ़ किमी की दूरी पर है जहां बीटिंग रिट्रीट समारोह के चलते राष्‍ट्रपति, प्रधानमंत्री और उपराष्‍ट्रपति मौजूद थे. डीसीपी सेंट्रल सिंघल के अनुसार, यह मामूली विस्‍फोट था और कोई भी घायल नहीं हुआ. कुछ कारों को विस्‍फोट के कारण नुकसान पहुंचा .

Also read:  फेसबुक और ट्विटर के बाद अब Youtube ने भी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर एक सप्ताह के लिए बैन लगा दिया ,हिंसा फैलने की चिंता जताई

पुलिस सूत्रों ने बताया कि विस्‍फोटक, इसके IED होने का संदेह है, को प्‍लास्टिक के बैग में लपेटकर फर्श पर छोड़ा गया था जहां इसमें हुए विस्‍फोट से नजदीक खड़ी चार-पांच कारों को नुकसान पहुंचा. जानकारी के अनुसार, फायर डिपाटमेंट को शाम 5:11 बजे अब्‍दुल कलाम रोड पर विस्‍फोट की सूचना मिली. क्षेत्र में इस समय बड़ी संख्‍या में पुलिसबल पर मौजूद है और एरिया की घेराबंदी कर ली गई है. सूचना मिलते ही तीन फायरटेंडर और दिल्‍ली पुलिस मौके पर पहुंची. विस्‍फोट के कारण नजदीक के चार पहिया वाहनों के शीशे टूट गए . शुरुआती जांच से ऐसा लगता है कि सनसनी पैदा करने के लिए इस विस्‍फोट को अंजाम दिया गया. राहत की बात यह रही कि इससे न कोई घायल और न ही संपत्ति को नुकसान पहुंचा है.गौरतलब है कि फरवरी 2012 में हुए विस्‍फोट में इजरायली राजदूत की कार को नुकसान पहुंचा था.

Also read:  मध्यप्रदेश के बाद, उत्तरप्रदेश भी लव जिहाद के खिलाफ सख्त कानून तैयार कर रहा है; कानून विभाग को प्रस्ताव भेजा है