English മലയാളം

Blog

पुलिस ने दिल्ली जाने वाले हर मार्ग पर जबरदस्त बैरिकेडिंग कर दी है और साथ ही वाहनों की सघनता से जांच भी की जा रही है। इसका कारण है किसानों का वो एलान जिसमें उन्होंने 1 फरवरी के दिन संसद घेराव की बात कही थी। हालांकि बाद में अपने इस एलान को किसानों से वापस ले लिया था लेकिन 26 जनवरी की घटना के बाद पुलिस को उन पर भरोसा नहीं है। इसके चलते हर रास्ते पर बैरिकेडिंग बहुत तगड़ी की गई है और सिर्फ दिल्ली ही नहीं एनसीआर में भी कई इलाकों में लंबा जाम लगा है।

Also read:  'सत्ता का शांतिपूर्ण हस्तांतरण हो', अमेरिकी संसद परिसर में हिंसा पर पीएम मोदी ने जताई चिंता

दिल्ली पुलिस ने महाराजपुर बॉर्डर को बंद कर दिया है और बैरिकेडिंग लगा दी है। इसी के चलते महाराजपुर से वैशाली तक लंबा जाम लग गया है। सप्ताह का पहला दिन होने के कारण वाहनों का दबाव अधिक है। गाजियाबाद के एसपी ट्रैफिक रामानंद कुशवाहा का कहना है कि बॉर्डर दिल्ली पुलिस की ओर से बंद किया गया है। भोपुरा और ज्ञानी बॉर्डर की ओर से ही वाहन दिल्ली आ जा सकते हैं।

 

दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे की सभी 14 लेन को दिल्ली पुलिस ने पहले ही बंद कर दिया था। इससे दिल्ली जाने वालों के लिए परेशानी बढ़ गयी है।दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने ब्रिगेडियर होशियार सिंह, बहादुरगढ़ सिटी, पंडित श्रीराम शर्मा और टिकरी बॉर्डर पर बने प्रवेश तथा निकास द्वारों को बंद कर दिया है। इसका अर्थ है कि इन स्टेशनों से मेट्रो गुजरेगी जरूर लेकिन यहां रुकेगी नहीं।

Also read:  किसान आंदोलन : सिंघु बॉर्डर पर पत्थरबाजी, भीड़ ने उखाड़े किसानों के टेंट

कृषि कानूनों के खिलाफ गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों का विरोध प्रदर्शन आज 66वें दिन भी जारी है। किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए बॉर्डर पर सुरक्षा बल तैनात है।

 

Also read:  उत्तर प्रदेश के आगरा में स्थित ऐतिहासिक धरोहर ताजमहल को अचानक बंद कर दिया गया,अज्ञात व्यक्ति ने दी थी विस्फोटक रखने की सूचना