English മലയാളം

Blog

कोरोना वायरस की उत्पत्ति के लिए चीन आखिरकार तैयार हो गया है। चीन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन की टीम को अपने यहां आने और जांच करने के लिए मंजूरी दे दी है। अब 14 जनवरी यानि गुरुवार को विश्व स्वास्थ्य टीम चीन का दौरा करेगी। कुछ दिनों पहले चीन ने वीजा का हवाला देते हुए आने से मना कर दिया था।

सोमवार को चीन ने बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेषज्ञों का एक समूह गुरुवार को कोरोना वायरस महामारी की उत्पत्ति की जांच के लिए आने वाला है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने सोमवार को एक वाक्य की घोषणा में कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेषज्ञ चीनी समकक्षों के साथ बैठक करेंगे, मगर कोई अन्य विवरण नहीं दिया।

हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की टीम वुहान का दौरा करेगी या नहीं। चीन ने इसे लेकर अभी तक कुछ नहीं कहा है। वायरस की वुहान में उत्पत्ति को लेकर व्यापक विचारों पर सवाल उठाने वाले बीजिंग ने दस सदस्यीय विशेषज्ञों के दल को दौरे की अनुमति देने में विलंब किया।

Also read:  US विदेश मंत्री ने पत्रकार पर्ल हत्याकांड में पाक कोर्ट के फैसले पर जताई चिंता, महमूद कुरैशी से की बात

राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) के उप प्रमुख जेंग यिशिन ने नौ जनवरी को मीडिया से कहा था कि वुहान में टीम के आने के वक्त पर अभी विचार किया जा रहा है। जेंग ने बताया कि चीन और डब्ल्यूएचओ के बीच चार वीडियो कॉन्फ्रेंस में जांच के विशेष बंदोबस्त को लेकर सहमति बनी है। जांच करने आ रहे दल के साथ चीन के विशेषज्ञ भी वुहान जाएंगे। इससे पहले डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेडरोस अधानोम गेब्रेयेसस ने विशेषज्ञों के दल को आवश्यक अनुमतियां नहीं देने पर बीजिंग की आलोचना की थी।

Also read:  Coronavirus Update: कोरोना के दैनिक मामलों में आई भारी गिरावट, पिछले 24 घंटे में दर्ज किए गए 16505 नए मामले