English മലയാളം

Blog

पंजाब में कोरोना के केस बढ़ने लगे हैं। ऐसे में जालंधर में प्रशासन ने सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। जालंधर में रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। शनिवार को डीसी घनश्याम थोरी ने यह आदेश जारी किया।

डीसी ने कहा कि कोरोना के खतरे से निपटने के लिए लोगों को प्रशासन का सहयोग करना चाहिए। महानगर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले अभी थम नहीं रहे हैं। चिंता की बात है कि सबसे ज्यादा नए पॉजिटिव केस स्कूली बच्चों में सामने आ रहे हैं।

शुक्रवार को भी स्कूलों में कोरोना वायरस के कई मामले सामने आए थे, जिसमें 61 विद्यार्थियों सहित 177 नए केस रिपोर्ट किए गए थे। इससे पहले गुरुवार को पांच महीने बाद जालंधर में कोरोना का सबसे बड़ा अटैक हुआ था। एक साल में पहली बार जालंधर में एक साथ 79 विद्यार्थी कोरोना पॉजिटिव आए थे। इनमें 13 शिक्षक भी शामिल हैं।

Also read:  रामराज्य की अवधारणा से प्रेरणा लेकर काम कर रहे हैं हम, CM केजरीवाल ने गिनाए दिल्ली सरकार के 10 काम

पंजाब में अब कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। एक्टिव केसों की संख्या भी बढ़कर 6661 पहुंच गई है। संक्रमण की दर में भी लगातार इजाफा हो रहा है। 15 दिन में संक्रमण दर 1.3 से बढ़कर 3.2 प्रतिशत तक पहुंच गई है। नवांशहर में हालात बेहद खराब हैं। यहां 921 एक्टिव केस हैं, यह पंजाब में सबसे अधिक हैं।

Also read:  'महाराष्ट्र को लेकर बड़ी चिंता है.', कोरोनावायरस को हल्के में न लें : COVID-19 केस बढ़ने पर सरकार

पंजाब में 17 फरवरी के बाद कोरोना संक्रमण में लगातार इजाफा हो रहा है। 17 फरवरी को सूबे में 341 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई थी, लेकिन अब दो सप्ताह बाद पंजाब में संक्रमितों की संख्या 1000 के पार पहुंच गई है। नमूनों की सकारात्मकता दर में तेजी से इजाफा हुआ है, अब दर 3.2 प्रतिशत हो गई है। एक्टिव केसों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है। 15 दिन में 50 प्रतिशत से ज्यादा की एक्टिव केसों में बढ़ोतरी हुई है। अब इनकी संख्या 6661 तक पहुंच गई है। जालंधर, लुधियाना, मोहाली, होशियारपुर और नवांशहर (एसबीएस नगर) इन पांच जिलों में सबसे अधिक संक्रमित मरीज आ रहे हैं।

Also read:  राजस्थान: सचिन पायलट कोरोना पॉजिटिव, बोले- डॉक्टर की सलाह ले रहा हूं

जालंधर में 7 सरकारी और 1 गैर सरकारी स्कूल में 79 विद्यार्थी और 13 शिक्षकों के कोरोना संक्रमित मिलने के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है। संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए शुक्रवार को 48 घंटे के लिए स्कूलों को बंद कर दिया गया। जिला प्रशासन ने स्कूल परिसर को सैनिटाइज कराने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिए हैं।