English മലയാളം

Blog

Screenshot 2023-08-18 124233

भारत में 5 अक्टूबर से क्रिकेट के महाकुंभ यानी वनडे वर्ल्ड कप 2023 की शुरुआत होनी है। इस टूर्नामेंट में कुल 10 टीमें हिस्सा लेंगी और 19 नवंबर को इसका फाइनल मुकाबला खेला जाएगा। इस टूर्नामेंट का हाईवोल्टेज महामुकाबला 14 अक्टूबर को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में भारत और पाकिस्तान के बीच खेला जाना है।

भारत में पहली बार पूरे टूर्नामेंट का आयोजन होने जा रहा है। इससे पहले 1987, 1996 और 2011 में भारत संयुक्त मेजबान रहा है। ऐसे में टीम इंडिया को हर कोई इस मेगा इवेंट के लिए फेवरिट मान रहा है। वहीं इसको लेकर क्रिकेट पंडितों और पूर्व खिलाड़ियों ने अपने 4 सेमीफाइनलिस्ट चुन लिए हैं।

Also read:  आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका, राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा और संजय सिंह को विशेषाधिकार समिति की रिपोर्ट आने तक निलंबित

एबी ने पाकिस्तान को किया ‘आउट’

इसी कड़ी में अपने यूट्यूब चैनल पर साउथ अफ्रीका के पूर्व दिग्गज और कप्तान एबी डिविलयर्स ने वर्ल्ड कप को लेकर भविष्यवाणी की है। उन्होंने इस टूर्नामेंट के लिए अपने चार सेमीफाइनलिस्ट चुने हैं। खास बात यह है कि इस लिस्ट में एबी डिविलियर्स ने पाकिस्तान को जगह नहीं दी है। जबकि ज्यादातर एक्सपर्ट्स का मानना है कि पाकिस्तान की टीम चार सेमीफाइनलिस्ट में से एक जरूर होगी। वहीं उन्होंने फाइनल के लिए दो टीमों के नाम बताए हैं। साथ ही पिछले साल की फाइनलिस्ट न्यूजीलैंड की टीम को भी एबी ने अपने अंतिम 4 में जगह नहीं दी है।

Also read:  रूस को 'तोड़ने' की कोशिश`, फूट डालो और जीतो है पुरानी पॉलिसी

डिविलियर्स की भविष्यवाणी

एबी ने अपने चार सेमीफाइनलिस्ट चुनते हुए कहा कि, बिल्कुल मुझे ऐसा लगता है कि भारतीय टीम जरूर पहुंचेगी। यह एक शानदार वर्ल्ड कप होने वाला है।  । इसके अलावा मैं अपने देश साउथ अफ्रीका के साथ चौथी टीम के रूप में जाना चाहूंगा। हालांकि, पाकिस्तान के पास भी अच्छा मौका हो सकता है। इतना ही नहीं सेमीफाइनलिस्ट चुनने के बाद एबी डिविलियर्स ने दो फाइनलिस्ट के भी नामों को प्रेडिक्ट किया है।

भारत-इंग्लैंड के बीच फाइनल!

मिस्टर 360 ने कहा कि, भारत और इंग्लैंड की टीमें फाइनल में पहुंच सकती हैं। अगर यह दोनों टीमें खिताबी मुकाबले तक जाती हैं तो काफी रोमांचक मुकाबला होगा। लेकिन मैं उम्मीद करता हूं कि मेरी साउथ अफ्रीकन टीम के खिलाड़ी भी शानदार करें। मुझे पता है कि उनके लिए इतना आसान नहीं होगा लेकिन आप कुछ नहीं कह सकते। यह ऐसा वर्ल्ड कप है जिसमें साउथ अफ्रीका की सबसे कम उम्मीदें हैं और यह उनके लिए अच्छा हो सकता है। यह एक टैलेंटेड टीम है और इसके कई खिलाड़ी अंडररेटेड भी हैं।