English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली: 

गणतंत्र दिवस पर किसान आंदोलन के तहत निकाली गई ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में हुई हिंसा में बतौर आरोपी सामने आए एक्टर दीप सिद्धू को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने इसकी जानकारी दी है. जानकारी है कि सिद्धू को पंजाब के जीरकपुर से पकड़ा गया है.

दीप सिद्धू और तीन अन्य आरोपियों पर जानकारी देने के लिए पुलिस ने 1 लाख का इनाम रखा था. सिद्धू का नाम ट्रैक्टर रैली में हिंसा-झड़प भड़काने की घटनाओं में सामने आया था.

Also read:  विपक्ष पर जमकर बरसे पीएम मोदी,कहा"दिल्ली में बैठे कुछ लोग मुझे लोकतंत्र का पाठ पढ़ाने की कोशिश कर रहे

दरअसल, उस दिन कुछ प्रदर्शनकारियों ने तय रूट और वक्त के उलट जाकर ट्रैक्टर लेकर दूसरे रास्तों पर चले गए थे. यहां कई जगहों पर पुलिस के साथ उनकी झड़प हुई. गाड़ियों के साथ तोड़फोड़ हुई. फिर बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी लाल किले में घुस गए और यहां भी काफी तोड़फोड़ हुई. कुछ लोग यहां किले के सामने एक खंभे पर चढ़ गए और धार्मिक सिख झंडा फहरा दिया.

बता दें कि पिछले दिनों दीप सिद्धू ने एक वीडियो जारी कर खुद को निर्दोष बताया था. सिद्धू उस दिन के बाद से ही फरार चल रहा था लेकिन उसके फेसबुक अकाउंट से लगातार ऐसे वीडियोज़ डाले जा रहे थे जिसमें वो किसान नेताओं और आंदोलन को लेकर बात कर रहा था. पुलिस के सूत्रों ने बताया था कि दीप सिद्धू का फेसबुक अकाउंट उसकी एक महिला दोस्त हैंडल कर रही है. वह विदेश से ही दीप के वीडियो फेसबुक पर अपलोड कर रही थी. दीप सिद्धू अपने वीडियो रिकॉर्ड करके महिला मित्र को भेज रहा था.

Also read:  Weather : मौसम का मिजाज बदला, दिल्ली समेत इन राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी

ट्रैक्टर रैली के दौरान प्रदर्शनकारियों की भयंकर झड़प हुई थी, जिसमें 300 से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हुए थे. लाल किले में भी काफी ज्यादा तोड़फोड़ हुई थी. हालांकि, किसान संगठनों ने कहा है कि लाल किले में जो प्रदर्शनकारी गए थे, वो किसान नहीं थे और इसकी जांच की जानी चाहिए कि आखिर हिंसा किसने भड़काई