English മലയാളം

Blog

ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा और एंट ग्रुप के मालिक जैक मा के गायब होने को लेकर महीनों से तरह-तरह के अनुमान लगाए जा रहे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि वे शायद सिंगापुर भाग गए हैं, वहीं कुछ लोग ये अनुमान लगा रहे हैं कि उन्हें चीनी सरकार ने नजरबंद में रखा है, लेकिन अब खबर आई है कि जैक मा चीन में ही हैं और वे गोल्फ खेलते नजर आए हैं।

चीन के सबसे चर्चित कारोबारी जैक मा को सन वैली गोल्फ रिजॉर्ट में रखा गया है, जो हैनान द्वीप पर स्थित है। परिचित लोगों ने नाम ना बताने की शर्त पर इसकी जानकारी दी। हैनान द्वीप के दक्षिण में स्थित इस रिजॉर्ट को अपनी खूबसूरती और शानदार नजारे के लिए जाना जाता है।

Also read:  मध्यप्रदेश में 'धार्मिक स्वतंत्रता विधेयक-2020' कल से लागू, 10 साल तक की सजा का है प्रावधान

इससे पहले 20 जनवरी को एशिया की सबसे अमीर शख्सियतों में शुमार जैक मा अचानक दुनिया के सामने प्रकट हुए थे। उन्हें एक वीडियो कॉन्फ्रेंस में देखा गया था। दुनिया में बढ़ते दबाव के बाद चीन के सरकारी समाचार पत्र ग्लोबल टाइम्स ने जैक मा का यह वीडियो जारी किया था। ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक, जैक मा ने इस दौरान चीन के 100 ग्रामीण शिक्षकों के साथ वीडियो लिंक के जरिए संवाद किया था। जैक मा ने शिक्षकों से कहा, ‘जब कोरोना वायरस खत्म हो जाएगा, तो हम फिर मिलेंगे।’

Also read:  Bihar Election 2020: गांवों में बरसे वोट, शहरी इलाकों में छाए रहे बादल

जैक मा ने अक्टूबर, 2020 में चीन के वित्तीय नियामकों और सरकारी बैंकों की आलोचना की थी। उन्होंने शंघाई में दिए भाषण में यह आलोचना की थी। जैक मा ने सरकार से आह्वान किया था कि वह ऐसे सिस्टम में बदलाव करे, जो कारोबार में नवाचारों के प्रयासों को दबाने का काम करते हैं। मा के इस भाषण के बाद चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी मा पर बिगड़ गई थी। इसके बाद से मा के एंट ग्रुप सहित कई कारोबारों पर असाधारण प्रतिबंध लगाए जाने शुरू हो गए थे। रिपोर्ट्स के अनुसार, इसके बाद से ही जैक मा की कोई सार्वजनिक उपस्थिति दर्ज नहीं हुई थी। जैक मा के बारे में रहस्य तब गहरा गया था, जब वे अपने टैलेंट शो ‘अफ्रीका के बिजनेस हीरो’ के फाइनल एपिसोड में भी नहीं दिखाई दिए।

Also read:  Coronavirus India: कोरोना के दैनिक मामलों में बड़ी गिरावट, पिछले 24 घंटे में मिले 22065 संक्रमित

इस भाषण के बाद चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी भड़क उठी। जैक मा की आलोचना को कम्युनिस्ट पार्टी पर हमले के रूप में लिया गया। इसके बाद जैक मा के बुरे दिन शुरू हो गए। उनके कारोबार के खिलाफ तरह-तरह की जांच शुरू कर दी गईं। राष्ट्रपति शी जिनपिंग के इशारे पर चीनी अधिकारियों ने जैक मा झटका देते हुए पिछले साल नवंबर में उनके एंट ग्रुप के 37 अरब डॉलर के आईपीओ को निलंबित कर दिया।