English മലയാളം

Blog

Screenshot 2023-09-19 102644

 पीएम ट्रूडो ने दावा किया कि कनाडा की सुरक्षा एजेंसियां इस बात की जांच कर रही है कि क्या हरदीप सिंह की हत्या के पीछे भारतीय एजेंसियों का हाथ है। जस्टिन ट्रूडो के इस दावे का भारत ने भी करारा जवाब दिया है। भारतीय विदेश मंत्रालय ने मंगलवार सुबह पीएम ट्रूडो के आरोपों को निराधार करार दिया है।

खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर (Hardeep Singh Nijjar) की हत्या को लेकर कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो (Justin Trudeau) ने भारत के खिलाफ टिप्पणी की है। पीएम ट्रूडो ने दावा किया कि कनाडा की सुरक्षा एजेंसियां इस बात की जांच कर रही हैं कि क्या हरदीप सिंह की हत्या के पीछे भारतीय एजेंसियों का हाथ है।

उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि कनाडा में उनके एक नागरिक की हत्या के पीछे दूसरे देश या सरकार की संलिप्तता को स्वीकार नहीं किया जा सकता है। जस्टिन ट्रूडो के इस दावे का भारत ने करारा जवाब दिया है। भारत सरकार ने कनाडा के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि ऐसे आरोप खालिस्तानियों और चरमपथियों से ध्यान हटाने के लिए लगाए जा हैं।

Also read:  यूपी में नई सरकार गठन के बाद अफसरों के तबादले की तैयारी, कुछ हटेंगे तो कुछ को मिलेगा इनाम

कनाडा ने खालिस्तानी आतंकवादियों का दिया आश्रय: विदेश मंत्रालय

भारतीय विदेश मंत्रालय ने मंगलवार सुबह पीएम ट्रूडो आरोपों को निराधार करार दिया है। वहीं,  भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा कि पीएम द्वारा दिए गए ऐसे बयान खालिस्तानी आतंकवादियों और चरमपंथियों से ध्यान हटाने की एक कोशिश है, जिसे कनाडा में आश्रय मिलता रहा है।

ये खालिस्तानी आतंकवादी और चरमपंथी, भारत की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता के लिए खतरे बने हुए हैं। कनाडा के कई राजनेताओं ने  खालिस्तानी आतंकवादियों और चरमपंथियों के प्रति नर्म रवैया अपनाया है, जो एक चिंता का विषय है।

Also read:  महाराजा हरि सिंह की जयंती पर अमित शाह ने दी श्रद्धांजली, बोले- महाराजा हरि सिंह जी की जयंती पर उन्हें नमन करता हूँ

भारत ने कनाडा के आरोपों का जवाब देते हुए यह भी कहा कि कनाडा सरकार भारत विरोधी तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करे और हमारी (भारत) कानून के शासन के प्रति मजबूत प्रतिबद्धता है।

हरदीप सिंह की हत्या के पीछे भारत का कोई हाथ नहीं: विदेश मंत्रालय

भारत ने आगे कहा कि कनाडा में हत्या, मानव तस्करी और संगठित अपराध सहित कई अवैध गतिविधियों के मामले सामने आते रहे हैं। हरदीप सिंह की हत्या के पीछे भारत का कोई हाथ नहीं है। विदेश मंत्रालय ने आगे कहा कि हम कनाडा सरकार से उनके देश में सक्रिय सभी भारत विरोधी तत्वों के खिलाफ त्वरित और प्रभावी कानूनी कार्रवाई करने का आग्रह करते हैं।

Also read:  अरबी सुलेख यूनेस्को विरासत सूची में जोड़ा गया

कनाडा ने भारतीय राजनयिक को किया निष्कासित

बता दें कि हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के पीछे भारत का हाथ बताकर कनाडा ने भारतीय राजनयिक को निष्कासित कर दिया है।

जनमत संग्रह कराएंगे खालिस्तान समर्थक

कनाडा में खालिस्तान समर्थक अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे। फिर से उन्होंने अगले महीने जनमत संग्रह कराने की घोषणा की है। इसमें वह पूछेंगे कि क्या प्रतिबंधित आतंकी संगठन खालिस्तान टाइगर फोर्स के प्रमुख हरदीप सिंह निज्जर की जून में हत्या के लिए भारतीय उच्चायुक्त संजय वर्मा जिम्मेदार हैं।