English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-02-11 095338

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस भारतीय और राष्ट्रीय पार्टी नहीं रह गई है बल्कि भाई बहन की पार्टी रह गई है।

 

 हरदोई के संडीला विधानसभा के भरावन क्षेत्र में जनसभा को संबोधित करने पहुंचे भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि कांग्रेस भारतीय और राष्ट्रीय पार्टी नहीं रह गई है बल्कि भाई बहन की पार्टी रह गई है।

उन्होंने अखिलेश यादव पर भी निशाना साधा और कहा कि अखिलेश यादव ने भी अपने मुख्यमंत्री बनने के दौरान आतंकियों के मुकदमे वापस करने का काम किया था। उन्होंने कहा जनता को भी सोचना है रक्षक ही भक्षक बन जाए ऐसे लोगों को उत्तर प्रदेश नहीं देना है।

Also read:  बिहार में अग्निपथ योजना के खिलाफ के बाद डिप्टी सीएम समेत बीजेपी के 12 नेताओं को मिली Y श्रेणी की सुरक्षा

बीजेपी ने जो कहा था वह किया

हरदोई में उन्होंने कहा कि उनका सौभाग्य है कि जहां हिरण्यकश्यप का वध किया भगवान ने ऐसी पवित्र धरती पर आने का उनको सौभाग्य मिला।कहा कि चुनाव की बेला है और एक अध्यक्ष होने के नाते हरदोई के लोगों के दर्शन न करूं यह सम्भव नही इसलिए दर्शन करने आया हूं।

उन्होंने कहा कि चुनाव आते ही सभी दल अपने तरीके से आकर्षित करते है लेकिन किसी पार्टी ने जो कहा वह नही किया लेकिन बीजेपी ही ऐसी पार्टी है जो जनता के सामने छाती ठोककर कह सकते हैं कि जो कहा था किया है और जो कहेंगे करेंगे अन्य दल यह नही कह सकते। उन्होंने कहा कि कई पार्टियां क्षेत्रवाद वंशवाद परिवारवाद आदि से दूर नहीं और विकास को लेकर देश प्रदेश का नही सोचते सिर्फ परिवारवाद करते हैं।

Also read:  लखनऊ के लेवाना होटल में लगी भीषण आग, कमरों में फंसे कई लोग

खोले जाएंगे एंटी टेरिरिस्ट कमांडो सेंटर

जेपी नड्डा ने कहा कि गुंडाराज न आये आतंकवाद को न पनपने दिया जाए इसके लिए एंटी टेररिस्ट कमांडो सेंटर खोलेंगे जिससे भय मुक्त विकास युक्त उत्तर प्रदेश का सपना साकार हो क्योंकि अखिलेश राज में गुंडाराज था आज महिलाएं सुरक्षित है। टीकाकरण को लेकर नड्डा ने अखिलेश पर निशाना साधा कहा कि उन्होंने मोदी योगी भाजपा की वैक्सीन कहकर जनता को गुमराह किया लेकिन लोगों ने वैक्सीन लगवाई और बाद में अखिलेश यादव ने भी वही वैक्सीन लगवाई।

सपा पर साधा निशाना

जेपी नड्डा ने कहाकि मई 2007 में गोरखपुर में सीरियल बम ब्लास्ट हुआ था उत्तर प्रदेश पुलिस कुछ न कर पाई क्योंकि उसमें हरकत उल जिहाद अल इस्लामी व इंडियन मुजाहिदीन के आतंकी पकड़े गए थे। एक आजमगढ़ का एक जौनपुर का था। सीएम अखिलेश बने तो दोनों के केस वापस करने को कहा लेकिन हाईकोर्ट ने सजा सुनाई।

Also read:  आम आदमी पार्टी के पंजाब के नव निर्वाचित पांचों राज्यसभा सदस्यों से अरविंद केजरीवाल ने की मुलाकात, जाने कौन है पांचों सांसद

31 दिसम्बर 2007 यूपी के रामपुर के सीआरपीएफ कैम्प पर आतंकी हमला किया गया 7 जवान शहीद हुए एनआईए ने नेपाल के बॉर्डर से शाहबदुद्दीन को पडका जो लश्कर ए तैयबा का कमांडर था तब 7 पकड़े गए उन पर केस चला अखिलेश ने केस वापस लिया फिर इलाहाबाद कोर्ट ने कहा कि नही ले सकते 4 को सजाए मौत 3 को उम्रकैद की सजा सुनाई। उन्होंने कहा कि हम संविधान में शपथ रक्षा की लेते है लेकिन इन्होंने क्या आतंकी की रक्षा की शपथ ली है।