English മലയാളം

Blog

देहरादून: 

उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस्तीफे के एक दिन बाद राज्य का नया मुख्यमंत्री चुन लिया गया है. तीरथ सिंह रावत अब उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री होंगे. त्रिवेंद्र सिंह रावत पिछले दिनों दिल्ली में बीजेपी आलाकमान के साथ मुलाकात करने आए थे, जिसके बाद यह अटकलें लग रही थीं कि राज्य में लीडरशिप बदलने वाली है. और फिर कल उन्होंने शाम को गवर्नर को अपना इस्तीफा सौंप दिया.तीरथ सिंह रावत वर्तमान में पौड़ी गढ़वाल से सांसद हैं और पूर्व में प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं. जानकारी है कि आज शाम 4 बजे उत्तराखंड में उनका शपथग्रहण समारोह होगा.

Also read:  भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16,488 नए मामले, 113 की मौत

पद के लिए चुने जाने के बाद उन्होंने कहा कि ‘मैं संघ प्रचारक रहा. संघ से जुड़ा, विद्यार्थी परिषद से जुड़ा, संगठन मंत्री बना. जो मुझे ज़िम्मा मिला वो मैंने निभाया, आगे भी निभाने की कोशिश करूंगा. हम टीम भावना के साथ आगे बढ़ेंगे.’ उन्होंने कहा कि ‘केंद्रीय नेतृत्व पीएम, अमित शाह और राष्ट्रीय अध्यक्ष का धन्यवाद करता हूं. दिल से आभार प्रकट करता हूं. कभी सोचा नहीं था और कल्पना भी नहीं कि थी.’ उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री की तारीफ करते हुए कहा कि ‘त्रिवेंद्र जी ने जो काम किये वो कभी न हुए थे.’

Also read:  अमिताभ की आवाज वाली कोविड कॉलर ट्यून हटाने की मांग, दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर

तीरथ सिंह को चुने जाने पर एक और जो दिलचस्प बात सामने आई है वो यह कि वो भी लो-प्रोफाइल नेता हैं. त्रिवेंद्र सिंह रावत की तरह जनता के बीच खास छवि नहीं है. संगठन के विशेषज्ञ माने जाते हैं. त्रिवेंद्र सिंह की भी ऐसी ही छवि थी. वो पहली बार मुख्यमंत्री बने थे. 2017 के विधानसभा चुनावों में जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनको इस पद के लिए चुना था.

Also read:  पहली बार भारतीय एयरलाइन ने एक महिला सीईओ की नियुक्ति की

जानकारी है कि अब जब नए मुख्यमंत्री के नाम पर फैसला हो चुका है तो, 10 नेता राज्यपाल से मिलने जाने वाले हैं, जिनमें तीरथ सिंह रावत (सीएम), मदन कौशिक, अरविंद पांडेय, हरक सिंह रावत, सतपाल महाराज, हरबंस कपूर, गणेश जोशी, सुबोध उनियाल और रमेश पोखरियाल निशंक का नाम शामिल है.