English മലയാളം

Blog

देहरादून: 

उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस्तीफे के एक दिन बाद राज्य का नया मुख्यमंत्री चुन लिया गया है. तीरथ सिंह रावत अब उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री होंगे. त्रिवेंद्र सिंह रावत पिछले दिनों दिल्ली में बीजेपी आलाकमान के साथ मुलाकात करने आए थे, जिसके बाद यह अटकलें लग रही थीं कि राज्य में लीडरशिप बदलने वाली है. और फिर कल उन्होंने शाम को गवर्नर को अपना इस्तीफा सौंप दिया.तीरथ सिंह रावत वर्तमान में पौड़ी गढ़वाल से सांसद हैं और पूर्व में प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं. जानकारी है कि आज शाम 4 बजे उत्तराखंड में उनका शपथग्रहण समारोह होगा.

Also read:  BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा हुए कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी

पद के लिए चुने जाने के बाद उन्होंने कहा कि ‘मैं संघ प्रचारक रहा. संघ से जुड़ा, विद्यार्थी परिषद से जुड़ा, संगठन मंत्री बना. जो मुझे ज़िम्मा मिला वो मैंने निभाया, आगे भी निभाने की कोशिश करूंगा. हम टीम भावना के साथ आगे बढ़ेंगे.’ उन्होंने कहा कि ‘केंद्रीय नेतृत्व पीएम, अमित शाह और राष्ट्रीय अध्यक्ष का धन्यवाद करता हूं. दिल से आभार प्रकट करता हूं. कभी सोचा नहीं था और कल्पना भी नहीं कि थी.’ उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री की तारीफ करते हुए कहा कि ‘त्रिवेंद्र जी ने जो काम किये वो कभी न हुए थे.’

Also read:  आज भी दिल्ली-एनसीआर के कई क्षेत्रों में इंटरनेट बंद, घर से काम और ऑनलाइन कक्षाएं प्रभावित

तीरथ सिंह को चुने जाने पर एक और जो दिलचस्प बात सामने आई है वो यह कि वो भी लो-प्रोफाइल नेता हैं. त्रिवेंद्र सिंह रावत की तरह जनता के बीच खास छवि नहीं है. संगठन के विशेषज्ञ माने जाते हैं. त्रिवेंद्र सिंह की भी ऐसी ही छवि थी. वो पहली बार मुख्यमंत्री बने थे. 2017 के विधानसभा चुनावों में जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनको इस पद के लिए चुना था.

Also read:  Coronavirus India: संक्रमणमुक्त हुए मरीजों की संख्या 75 लाख के पार, एक दिन में सामने आए 45230 नए मामले

जानकारी है कि अब जब नए मुख्यमंत्री के नाम पर फैसला हो चुका है तो, 10 नेता राज्यपाल से मिलने जाने वाले हैं, जिनमें तीरथ सिंह रावत (सीएम), मदन कौशिक, अरविंद पांडेय, हरक सिंह रावत, सतपाल महाराज, हरबंस कपूर, गणेश जोशी, सुबोध उनियाल और रमेश पोखरियाल निशंक का नाम शामिल है.