English മലയാളം

Blog

पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले दल-बदल की शुरुआत हो गई है। भाजपा सांसद सौमित्र खान की पत्नी सुजाता मंडल खान ने सोमवार को राजधानी कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) का दामन थाम लिया। वहीं, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि भाजपा सांसद अपने पत्नी के टीएमसी में शामिल होने से इतने नाराज हो गए हैं कि उन्होंने पत्नी सुजाता को तलाक नोटिस भेजने का फैसला किया है।

सौमित्र खान वर्तमान में भारतीय जनता युवा मोर्चा के अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल के बिश्नुपुर से सांसद हैं। सुजाता मंडल खान सत्तारूढ़ पार्टी के सांसद सौगत राय और प्रवक्ता कुणाल घोष की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुईं। वहीं, अब भाजपा सांसद सौमित्र खान ने उन्हें तलाक नोटिस भेजने का निर्णय लिया है। तलाक नोटिस भेजने के फैसले के दौरान सुजाता खान की कार और बरजोरा स्थित घर की सुरक्षा वापस ले ली गई है।

Also read:  UK के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन होंगे गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि,पीएम मोदी को जी 7 का न्योता

दूसरी तरफ, टीएमसी में शामिल होने के बाद सुजाता मंडल खान ने कहा, भाजपा में महिलाओं के लिए कोई सम्मान नहीं है और यही कारण था कि उन्होंने इससे अलग होने और ममता बनर्जी के संगठन में शामिल होने का फैसला किया।

Also read:  ईयू से बाहर होने के बाद ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन करेंगे पहली अंतरराष्ट्रीय यात्रा, अप्रैल में आएंगे भारत

उन्होंने भाजपा पर कठिन परिश्रम करने वाले पार्टी कार्यकर्ताओं को उचित श्रेय नहीं देने का आरोप लगाया। भाजपा पर चुटकी लेते हुए सुजाता ने कहा, भाजपा में छह मुख्यमंत्री और 13 डिप्टी सीएम चेहरे हैं! राज्य में भाजपा का कोई सीएम चेहरा नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा के सदस्य के रूप में वह तब शर्मिंदा महसूस करती थीं जब भाजपा के सीएम चेहरे को लेकर सवाल उठाए जाते थे।

यह पूछे जाने पर कि क्या उनके पति जो एक भाजपा सांसद हैं, तृणमूल कांग्रेस में शामिल होंगे, सुजाता ने सौमित्र के सत्ताधारी दल में शामिल होने की संभावना से इनकार नहीं किया। उन्होंने कहा कि भविष्य में क्या होगा यह कोई नहीं जानता।

Also read:  दिल्ली में छठ पूजा समारोह आयोजित करने की अनुमति नहीं, हाईकोर्ट ने इजाजत देने से किया इनकार

गौरतलब है कि गृह मंत्री अमित शाह के बंगाल दौरे के दौरान टीएमसी के प्रमुख नेता सुवेंदु अधिकारी भाजपा में शामिल हुए। मेदनीपुर में एक विशाल रैली के दौरान अधिकारी के अलावा पांच विधायक और एक सांसद सहित 34 अन्य टीएमसी नेताओं ने शाह की उपस्थिति में भाजपा का दामन थामा।