English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-02-18 094511

देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 25 हजार 920 नए केस सामने आए हैं और 492 लोगों की मौत (Covid Deaths) हो गई। कल 30 हजार 757 मामले दर्ज किए गए थे।

 

देश में जानलेवा कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के मामले आज घटे हैं। देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 25 हजार 920 नए केस सामने आए हैं और 492 लोगों की मौत (Covid Deaths) हो गई। कल 30 हजार 757 मामले दर्ज किए गए थे। यानी कल की तुलना में आज मामले घटे हैं। देश में पिछले दिन 66 हजार 254 लोग ठीक हुए हैं। जानिए देश में कोरोना की ताजा स्थिति क्या है।

एक्टिव केस घटकर 2 लाख 92 हजार 92 हुए

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब एक्टिव मामलों की संख्या घटकर 2 लाख 92 हजार 92 हो गई है। वहीं, इस महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 5 लाख 10 हजार 905 हो गई है। आंकड़ों के मुताबिक, अभी तक 4 करोड़ 19 लाख 77 हजार 238 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके है।

Also read:  पश्चिम बंगाल में 6 फरवरी से यात्राएं करेंगे अमित शाह समेत बीजेपी के बड़े नेता, अनुमति न मिली तो कोर्ट जाने की बात कही

दिल्ली में 739 नये मामले, पांच मरीजों की मौत

दिल्ली में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 739 नये मामले सामने आए और महामारी से पांच मरीजों की मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार संक्रमण की दर 1.48 प्रतिशत दर्ज की गई है। बुलेटिन के मुताबिक संक्रमण के नये मामलों के बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 18,54,167 हो गयी जबकि मृतकों की तादाद बढ़कर 26,091 पर पहुंच गयी। इससे पहले दिल्ली में बुधवार को कोविड-19 के 766 नये मामले सामने आए थे और पांच मरीजों की मौत हुई थी जबकि संक्रमण की दर 1.37 प्रतिशत थी।

Also read:  आशु बांगड़ ने आप से दिया इस्तीफा, राघव चड्ढा पर लगाया बड़ा आरोप

अबतक करीब 174 करोड़ खुराक दी गईं

राष्ट्रव्यापी टीकाकरण मुहिम के तहत अभी तक कोरोना वायरस रोधी टीकों (Corona Vaccine) की करीब 174 करोड़ से खुराक दी जा चुकी हैं। कल 37 लाख 86 हजार 806 डोज़ दी गईं, जिसके बाद अबतक वैक्सीन की 174 करोड़ 64 लाख 99 हजार 461 डोज़ दी जा चुकी हैं। मंत्रालय ने कहा कि स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम पंक्ति के कर्मियों और 60 साल और इससे अधिक उम्र के लोगों को अब तक 1.82 करोड़ से अधिक यानी (1,82,90,152) एहतियाती खुराक दी जा चुकी हैं।

Also read:  देश में 10 अप्रैल से सभी वयस्कों के लिए सतर्कता यानी बूस्टर डोज लगवाने की अनुमति दे दी गई

कोरोना से बढ़ सकता है मानसिक स्वास्थ्य की समस्याओं का खतरा

अमेरिका में हुए एक अध्ययन में दावा किया गया है कि कोरोना वायरस से संक्रमित होने के एक साल बाद तक घबराहट, अवसाद और सोने में दिक्कत जैसी मानसिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। ‘‘दि बीएमजे’’ में प्रकाशित अध्ययन में कहा गया कि कोविड-19 से पीड़ित होकर ठीक हो चुके लोगों को मानसिक स्वास्थ्य को प्राथमिकता देनी चाहिए। महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक दुनिया में 40 करोड़ 30 लाख और अमेरिका में सात करोड़ 70 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं।