English മലയാളം

Blog

MODI and NITISH KUMAR

पटना: 

बिहार विधान सभा चुनावों (Bihar Assembly Elections) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक दर्जन चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे. सभी चुनावी रैलियों में उनके साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मंच साझा करेंगे. पहले चरण के मतदान से पहले 23 अक्टूबर को सासाराम में दोनों नेता संयुक्त चुनावी रैली को संबोधित करेंगे. पहले ही दिन पीएम और सीएम गया और भागलपुर में भी क्रमश: दूसरी और तीसरी रैली को संबोधित करेंगे.

Also read:  18 जनवरी से दिल्ली में खुलेंगे 10वीं-12वीं के स्कूल, अभिभावकों की सहमति से ही जाएंगे बच्चे

इसके बाद प्रधानमंत्री 28 अक्टूबर को दूसरी बार बिहार में चुनावी रैलियों को संबोधित करने आएंगे. उस दिन दरभंगा में पहली रैली करेंगे. उसके बाद पटना जिले में ही दो अन्य रैलियां करेंगे, इनमें एक पटना में होगी. तीसरी बार पीएम के दौरे में भी तीन रैलियां होंगी. 1 नवंबर को पीएम और सीएम पहले छपरा फिर पूर्वी चंपारण और समस्तीपुर में चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे.

चौथी बार में प्रधानमंत्री 3 नवंबर को रैली करने आएंगे. उस दिन पश्चिमी चंपारण, सहरसा और अररिया में सीएम के साथ सभा को संबोधित करेंगे. बिहार भाजपा प्रभारी देवेंद्र फड़णवीस ने इसकी जानकारी दी है.

इससे पहले बिहार एनडीए द्वारा एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेन्स में नीतीश सरकार का रिपोर्ट कार्ड जारी किया गया. पटना के एक होटल में आयोजित इस कार्यक्रम में बीजेपी और जेडीयू के अलावा दो अन्य सहयोगी दल (हम और वीआईपी) के नेता भी मंच पर मौजूद थे. बीजेपी की तरफ से बिहार के चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, मंत्री मंगल पांडेय और जेडीयू की तरफ से मंत्री संजय झा मौजूद थे. इस मौके पर संजय झा ने कहा कि नीतीश जी ने साल 2005 में माइनस में काम शुरू किया था लेकिन आज बिहार में विकास की कहानी किसी से छुपी नहीं है.