English മലയാളം

Blog

पटना: 

Bihar Election 2020: बिहार में भारतीय जनता पार्टी (BJP) को लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के साथ दोस्ताना संघर्ष मंजूर नहीं है. इसके दो संकेत रविवार को मिले. पहले गया (Gaya) की सभा में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने कहा कि चुनाव दोस्ती यारी का नहीं होता. वहीं पार्टी द्वारा जारी दूसरी सूची में दो विधानसभा सीटों लालगंज और गोविंदगंज के लिए अपने प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की. पार्टी ने गोविंदगंज सीट पर सुनील मणि त्रिपाठी को उतारा है वहीं वैशाली जिले की लालगंज सीट पर संजय कुमार सिंह उम्मीदवार होंगे. पिछले विधानसभा चुनाव में इन दोनों सीटों पर लोक जनशक्ति पार्टी के राजू तिवारी और राज कुमार शाह जीते थे.

Also read:  महागठबंधन का घोषणा पत्र जारी: युवाओं को परीक्षा शुल्क से मुक्ति, मनरेगा में 200 दिन काम का वादा

बीजेपी के उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट में भागलपुर सीट से केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अरिजित सास्वत की जगह रोहित पांडेय को टिकट दिया गया है. पांडेय भागलपुर भाजपा के अध्यक्ष हैं. इसके अलावा पूर्व मंत्री नीतीश मिश्रा को एक बार फिर झंझारपुर से उम्मीदवार बनाया गया है. वहीं सिवान से पूर्व सांसद ओमप्रकाश यादव अब सिवान विधानसभा सीट से प्रत्याशी होंगे.

Also read:  कोरोना की स्थिति पर पीएम मोदी की अगुवाई में सर्वदलीय बैठक शुरू

पटना जिले में पार्टी ने अपने सभी विधायकों को फिर से टिकट दे दिया. इसमें पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव पटना साहेब से, नितिन नवीन और संजीव चौरसिया बांकीपुर और दीघा से उम्मीदवार होंगे. जहां यादव लगातार पच्चीस वर्षों से पटना साहेब से जीत रहे हैं वहीं नितिन नवीन तीन टर्म विधायक रह चुके हैं. इसके अलावा पार्टी पहली बार मनेर सीट लड़ेगी, जहां से पार्टी प्रवक्ता निखिल आनंद प्रत्याशी होंगे.