English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-08-27 080034

भाजपा नेता दिलीप घोष ने कहा कि घोटालों के लिए टीएमसी नेता जल्द ही ”जनता के आक्रोश” का सामना करेंगे।दिलीप घोष पहले भी विवादित टिप्पणियां करते रहे हैं।इससे पहले सौगत रॉय को जूतों से पीटने की बात कही थी।

 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने शुक्रवार को यह कहते हुए एक और विवाद खड़ा कर दिया कि वह दिन दूर नहीं जब तृणमूल कांग्रेस के नेताओं को राज्य में भ्रष्टाचार के विभिन्न मामलों में संलिप्तता के लिए ”सार्वजनिक रूप से पीटा” जाएगा। घोष पहले भी विवादित टिप्पणियां करते रहे हैं।

Also read:  भारत में पिछले 24 घंटे में दर्ज हुए 29,398 नए COVID-19 केस, 414 की मौत

उन्होंने कहा कि टीएमसी नेता मवेशी तस्करी तथा एसएससी घोटालों समेत विभिन्न घोटालों में कथित तौर पर शामिल होने के लिए जल्द ही ”जनता के आक्रोश” का सामना करेंगे। उन्होंने एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ”वह दिन दूर नहीं जब टीएमसी के नेताओं को सार्वजनिक रूप से पीटा जाएगा…राज्य के लोग इस भ्रष्ट टीएमसी सरकार से तंग आ गए हैं। वे विभिन्न घोटालों में संलिप्तता के लिए जल्द ही जनता के आक्रोश का सामना करेंगे।”

Also read:  केंद्रीय विद्यालयों में छात्रों के प्रवेश की सिफारिश में सांसदों के विवेकाधीन कोटा को बंद कर दिया, केंद्र सरकार के कर्मचारियों बच्चों को मलेगा कोटा

गौरतलब है कि इससे पहले दिलीप घोष ने टीएमसी नेता सौगत रॉय को जूतों से पीटने की बात कही थी। घोष ने यह कहकर विवाद खड़ा दिया था कि तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के नेता सौगत रॉय अपने उस बयान के लिए ”जूतों से पीटे जाएंगे” जिसमें उन्होंने अपनी पार्टी के आलोचकों के बारे में कुछ कहा था। घोष के बयान पर रॉय ने तीखी प्रतिक्रिया दी थी।

Also read:  कर्नाटक में टीपू सुल्तान की 100 फिट की मूर्ति स्थापित करने का मामला गर्माया, कांग्रेस के दिग्गज ने BJP को घेरा

रॉय ने कहा कि भाजपा नेता ने ”औपचारिक शिक्षा” नहीं ली है और वह तृणमूल के संपर्क में हैं क्योंकि भाजपा को अब उन पर भरोसा नहीं है। तृणमूल के वरिष्ठ सांसद रॉय ने कहा था कि पार्टी के दो नेताओं की गिरफ्तारी के बाद विपक्षी दलों के नेता पार्टी को अनुचित तरीके से निशाना बना रहे हैं।