English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-05-18 190504

विदेशी बाजारों में मजबूत अमेरिकी डॉलर तथा विदेशी कोषों की निकासी के बीच अंतर-बैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में बुधवार को रुपया 16 पैसे की गिरावट के साथ 77.60 प्रति डॉलर (अस्थायी) के अपने सर्वकालिक निचले स्तर पर बंद हुआ।

अंतर-बैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया डॉलर के मुकाबले 77.57 पर कमजोर खुला। अमेरिकी फेडरल रिजर्व के प्रमुख जेरोम पावेल की आक्रामक टिप्पणियों के बाद वैश्विक बाजार में डॉलर में तेजी लौटने से रुपया अपने दिन के निचले स्तर 77.61 प्रति डॉलर तक गया। कच्चे तेल की कीमत में करीब एक प्रतिशत की तेजी आई जिससे रुपये की धारणा प्रभावित हुई।

Also read:  जहांगीरपुरी हिंसा के बाद अतिक्रमण पर चलेगा बुलडोजर, अमानतुल्लाह ने कहा- खराब होगा पूरे देश का माहौल

 

कारोबार के अंत में रुपया 77.60 पर बंद हुआ, जो पिछले बंद भाव 77.44 से 16 पैसे की गिरावट को दर्शाता है। इस बीच, छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.3 प्रतिशत बढ़कर 103.59 हो गया। वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड वायदा का दाम एक प्रतिशत बढ़कर 113 डॉलर प्रति बैरल हो गया।

Also read:  इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मुख्तार अंसारी की जमानत अर्जी खारिज, विधायक निधि का दुरुपयोग करने का लगा आरोप

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक 109.94 अंक अथवा 0.20 प्रतिशत की गिरावट के साथ 54,208.53 अंक पर बंद हुआ। शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाल रहे और उन्होंने मंगलवार को 2,192.44 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर बेचे।

Also read:  Shane Warne Death: शेन वार्न स्पिन गेंदबाजी के थे जादूगर, वे पांच मैच जो हमेशा किए जाएंगे याद