English മലയാളം

Blog

आने वाले शनिवार 14 नवंबर को पूरे देश में दीपावली का त्योहार बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाएगा। इस मौके पर कई लोग पटाखे जलाएंगे। इसे लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को लोगों से पटाखे न जलाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि इससे कोविड-19 मरीजों पर प्रभाव पड़ेगा।

उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘लोगों को पटाखे चलाने से बचना चाहिए, क्योंकि इससे होने वाले प्रदूषण से कोविड-19 मरीजों की हालत बिगड़ सकती है। प्रदूषण कोरोना के प्रभाव को बढ़ा सकता है। मैं लोगों से अपील करता हूं कि पटाखे न जलाएं बल्कि मिट्टी के दीपक जलाएं। दिवाली के बाद 15 दिन महत्वपूर्ण होंगे। हमें सतर्क रहना चाहिए ताकि फिर से लॉकडाउन की आवश्यकता पैदा न हो। भीड़ में बिना मास्क के घूमने वाला कोविड-19 का मरीज करीब 400 लोगों को संक्रमित कर सकता है।’

मुख्यमंत्री ने बताया कि दिवाली के बाद राज्य में स्कूल दोबारा खोले जाएंगे। उन्होंने कहा, ‘हम सभी एहतियातन कदम उठाते हुए दिवाली के बाद स्कूलों को फिर से खोलने पर विचार कर रहे हैं। धार्मिक स्थलों को भी खोलने की अनुमति होगी। हम आम जनता के लिए मुंबई की लोकल सेवाओं को फिर से शुरू करने के लिए केंद्र के साथ बातचीत कर रहे हैं। इस पर जल्द ही निर्णय लिया जाएगा।’

Also read:  केंद्र ने राज्यों से नए साल पर कोरोना वायरस को लेकर पाबंदियों पर विचार करने के लिए कहा