English മലയാളം

Blog

Screenshot 2021-12-29 104237

भाजपा से राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने कहा कि जीतन राम मांझी वरिष्ठ नेता हैं, इसलिए घटक दलों की ओर से उनके खिलाफ बयानबाजी नहीं की जानी चाहिए।  

 

बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Patna) में बिहार सरकार (Bihar Government) में BJP कोटे से मंत्री नीरज सिंह बबलू के एक बेतुके बयान के बाद पूर्व CM जीतन राम मांझी (Jeeten Ram Manjhi) ने नीतीश सरकार (Nitish Government) को गिराने की धमकी दे दी। इसके बाद BJP के राज्यसभा सांसद सुशील मोदी (Sushil Modi) डैमेज कंट्रोल में जुट हुए हैं। उन्होंने कहा है कि जीतन राम मांझी सीनियर नेता हैं। उन पर बाकी अन्य दलों की ओर से कोई बयानबाजी नहीं होनी चाहिए।

दरअसल, बीते दिनों पूर्व सीएम द्वारा पंड़ितों को गाली देने और फिर डैमेज कंट्रोल के रूप में जब मांझी सोमवार को ब्राह्मण भोज करा रहे थे इसी दौरान मंत्री नीरज कुमार बबलू उन पर ताबड़तोड़ हमला कर रहे थे। इसके अलावा उन्हें राजनीति से संन्यास लेने की राय दे रहे थे। बीजेपी कोटे से मंत्री नीरज सिंह ने कहा कि नीतीश कुमार ने जीतन राम मांझी को सीएम बनाया देख कर ऐसा लगता है कि मांझी पर अब उम्र बढ़ने के साथ दिमाग पर गलत असर पड़ रहा है।  इस दौरान मांझी को समझना चाहिए कि उनका बेटा भी नीतीश कुमार सरकार में मंत्री है और गलत बयानबाजी से बचना चाहिए। मांझी को राजनीति से संन्यास लेकर राम नाम जपना चाहिए।  नीरज के बयान के बाद मांझी ने नीतीश सरकार गिराने की धमकी दी नीरज बबलू के इसी बयान से मांझी की पार्टी इतनी नाराज हो गई कि अपने 4 विधायकों के दम पर चलने वाले बिहार सरकार गिराने की धमकी दे दी।

Also read:  पंजाब के CM चन्नी ने की PM मोदी से अपील, कहा-कुमार विश्वास के आरोपों की हो जांच

विवाद पर डैमेज कंट्रोल के लिए उतरे सुशील मोदी

बता दें कि हम पार्टी के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि जीतन राम मांझी को नीरज बबलू की सलाह की कोई जरूरत नहीं है। नीरज बबलू को ध्यान रखना चाहिए कि अगर मांझी ने अपने 4 विधायकों का समर्थन सरकार से हटा लिया तो नीरज बबलू मंत्री भी नहीं रहेंगे और सड़क पर आ जाएंगे। नीरज बबलू को बयानबाजी करने से पहले 20 बार सोचना चाहिए।  हालांकि इस मामले में अब डैमेज कंट्रोल में आए सुशील मोदी उनकों मनाने की जुगत में लगे रहे, वहीं।  बीजेपी के तरफ से पूरे विवाद पर डैमेज कंट्रोल के लिए पूर्व उप मुख्यमंत्री और पार्टी के राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी सामने आए।

Also read:  मणिपुर में हालात गंभीर, सेना ने कहा- फेक कंटेंट पर भरोसा ना करें लोग

‘दलित समाज को धमकाने वालों को नहीं किया जाएगा बर्दाश्त’

गौरतलब है कि बीजेपी सांसद सुशील मोदी ने ट्वीट कर मांझी को सीनियर नेता बताया और याद दिलाया कि जब बीजेपी नेता गजेंद्र झा ने मांझी की जुबान काटने की धमकी दी थी तो पार्टी ने उन्हें निलंबित कर दिया था।  इसके साथ ही पार्टी को संदेश दिया दलित समाज को धमकाने या अपमानित करने वालों को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।  वहीं, मोदी ने कहा कि जीतन राम मांझी के गाली देने के मामले को तूल दिया गया था, उस पर मांझी ने खुद माफी मांग ली थी और फिर सोमवार को अपने आवास पर ब्राह्मणों को सम्मान दिया और भोजन कराया जिसके बाद यह पूरा विवाद बंद हो गया।