English മലയാളം

Blog

भारत में ‘मेट्रो मैन’ के नाम से मशहूर ई श्रीधरन भाजपा में शामिल होने वाले हैं। वे 21 फरवरी से केरल भाजपा प्रमुख के सुरेंद्रन की अगुवाई में आयोजित होने वाली विजय यात्रा के दौरान औपचारिक रूप से पार्टी की सदस्यता ग्रहण करेंगे। उन्हें देश में सार्वजनिक परिवहन प्रणाली में बदलाव का श्रेय दिया जाता है।

भाजपा ने गुरुवार को कहा कि ‘मेट्रो मैन’ ई श्रीधरन केरल विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी में शामिल होंगे। भाजपा की राज्य इकाई के अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने बताया कि श्रीधरन 21 फरवरी को कासरगोड़ से पार्टी की ‘विजय यात्रा’ शुरू होने के दौरान भाजपा में शामिल होंगे। सुरेंद्रन ने संवाददाताओं को बताया कि श्रीधरन ने भाजपा के साथ काम करने की इच्छा जाहिर की थी।

श्रीधरन ऐसे समय पर पार्टी की सदस्यता लेने वाले हैं जब इस साल राज्य में विधानसभा के चुनाव होने हैं। दक्षिण भारत में पार्टी का विस्तार करने के उद्देश्य से भाजपा यहां विजय यात्रा की शुरुआत कर रही है। यह रथ यात्रा 21 फरवरी को कासरगोड से शुरू होगी और मार्च के पहले हफ्ते के आसपास तिरुवनंतपुरम में खत्म होगी।

Also read:  पश्चिम बंगाल: ममता को फिर लगा झटका, राजीव बनर्जी ने विधायक पद से दिया इस्तीफा

श्रीधरन 31 दिसंबर, 2011 को दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) के प्रमुख के पद से सेवानिवृत्त हुए थे। मेट्रो रेल परियोजना के शुभारंभ के बाद भारतीय इंजीनियर को भारत के ‘मेट्रो मैन’ का सम्मान हासिल हुआ था। 88 साल के इंजीनियर ने डीएमआरसी की स्थापना के बाद से इससे जुड़े सभी मामलों को हल किया। उन्होंने बजट के अंदर और समय से पहले ही इस परियोजना को पूरा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

Also read:  केवल 50 लोगों को दिल्ली में शादियों में इकट्ठा होने की अनुमति होगी, CM केजरीवाल के प्रस्ताव को LG की मंजूरी

श्रीधरन का जन्म 12 जून, 1932 को केरल के पलक्कड़ जिले में हुआ था। उन्होंने भारत की कुछ सबसे सफल रेलवे और मेट्रो परियोजनाओं को सफल बनाने में अहम भूमिका निभाई है। उन्हें कोंकण रेलवे के सफल निर्माण का भी श्रेय दिया जाता है। यह आजादी के बाद भारत के पश्चिमी तट को जोड़ने वाली सबसे बड़ी रेल परियोजना है।