English മലയാളം

Blog

हाथरस: 

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) यूपी के हाथरस (Hathras) में दलित युवती के साथ हुई दरिंदगी के मामले में पीड़ित परिवार मिलने पहुंचे है. शाम 7.20 बजे राहुल गाधी और प्रियंका गांधी हाथरस पहुंचे. इस वक्त दोनों नेता पीड़ित परिवार से मुलाकात कर रहे हैं. राहुल औऱ प्रियंका के साथ केसी वेणुगोपाल, अधीर रंजन चौधरी और पीएल पुनिया भी हैं.

करीब 25 मिनट से ज्यादा समय हो चुका है राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को पीड़ित परिवार से बातचीत करते हुए. दोनों नेताओं के साथ बड़ी संख्या में पुलिस बल हाथरस आय़ा है.

Also read:  ओबामा ने अपनी किताब में राहुल गांधी को बताया नर्वस नेता, लिखा-योग्यता और जुनून की कमी

इससे पहले पुलिस ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) को यूपी में एंट्री करने की अनुमति दे दी थी. पुलिस प्रशासन का कहना था कि राहुल और प्रियंका समेत पांच लोगों को हाथरस जाने की अनुमति दे दी है. लेकिन फिर भी काफी लंबे हंगामे के बाद राहुल गांधी और प्रिंयका गांधी को डीएनडी से आगे जाने दिया गया.

Also read:  मकर संक्रांति, पोंगल के बहाने केंद्र पर राहुल गांधी का निशाना, आंदोलनकारी किसानों को दी विशेष शुभकामनाएं

कवच बनकर सामने आ गईं प्रियंका
उस वक्त प्रियंका की गाड़ी ठीक टोल के बैरियर पर थीं. वहां पर कुछ कार्यकर्ताओं ने जिद की अपने नेताओं के साथ जाने की. इसके बाद पुलिस ने कार्यकर्ताओं पर लाठी चार्ज किया. इसे देखकर  प्रियंका गांधी वाड्रा गाड़ी से उतरीं और उन्होंने तुरंत कांग्रेस नेता को बचाया. इस दौरान उन्होंने पूर्व सांसद कमांडो कमल किशोर को पुलिस की लाठियों से बचाया

इस बीच उन्होंने एक लाठी को भी पकड़ लिया. इसके बाद प्रियंका गांधी वाड्रा कांग्रेस नेता को पुलिस की लाठियों से बचाते हुए सड़क के बीच से थोड़ा साइड में लेकर गईं और उन्हें बैठा दि

Also read:  'PM मोदी के लिए 8400 करोड़ का जहाज और जवानों को नॉन बुलेट प्रूफ ट्रक', राहुल गांधी का तंज