English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली: 

AAP to contest in UP Assembly Elections 2022: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने मंगलवार को एक बड़ी घोषणा में कहा कि उनकी आम आदमी पार्टी (AAP) 2022 में उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों में मैदान में उतरेगी. आप के लिए यह बड़ा कदम होगा क्योंकि आम आदमी पार्टी पहली बार उत्तर प्रदेश जैसे किसी बड़े राज्य के विधानसभा चुनाव में चुनाव लड़ेगी. केजरीवाल ने मंगलवार को ऑनलाइन मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि ‘पिछले आठ सालों में आप ने दिल्ली में तीन बार सरकार बनाई है. पंजाब में पार्टी मुख्य विपक्षी पार्टी बनकर उभरी है. लेकिन आज मैं एक अहम घोषणा करने जा रहा हूं…. पार्टी 2022 के उत्तर प्रदेश विधासनभा चुनावों भी ही लड़ेगी.’

Also read:  दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर बैठे किसानों को वाई-फाई देगी केजरीवाल सरकार, हॉटस्पॉट लगाने का एलान

केजरीवाल ने कहा कि ‘दिल्ली में यूपी के बहुत भाई-बहन रहते हैं. आप की सरकार बनने के साथ यूपी के कई लोग और संगठन मेरे पास आए. उनका कहना है कि पार्टी को यूपी में चुनाव लड़ना चाहिए. जो सुविधाएं दिल्ली में दी हैं, वो यूपी में रहने वाले परिवारों को भी मिलना चाहिए.’ उन्होंने कहा कि इन लोगों ने उनसे कहा कि ‘यूपी की जनता इन पुरानी पार्टियों से त्रस्त हो गई है और लोग खुद आगे आएंगे और यूपी को अपनी जागीर समझने वाली पार्टियों को हराएंगे.’

Also read:  AAP का आरोप दिल्ली पुलिस ने सीएम केजरीवाल को किया नजरबंद, पुलिस ने किया इनकार

केजरीवाल ने कहा कि ‘उत्तर प्रदेश को गंदी राजनीति और भ्रष्ठ नेताओं ने विकास से दूर रखा, इसलिए दिल्ली में जो सुविधाएं लोगों को मिल रही है, वो UP में अभी तक नही मिली.’ उन्होंने कहा कि ‘दिल्ली के लोगों को 24 घंटे और मुफ्त बिजली मिल सकती है, मोहल्ला क्लिनिक खुल सकता है और दिल्ली के सरकारी स्कूलों की हालत बेहतर हो सकती है, तो यूपी में ये सबकुछ क्यों नहीं हो सकता?’

केजरीवाल ने कहा कि यूपी हर सरकार ने पिछली सरकार का भ्रष्टाचार का रिकॉर्ड तोड़ा है और यूपी को प्रगति की राह पर चलने से राज्य की गंदी राजनीति और भ्रष्ट नेताओं ने रोका है.