English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-08-06 154420

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि भाजपा शासनकाल में शांतिपूर्ण प्रदर्शन करना भी गैरकानूनी हो चुका है।

गुरुवार को कांग्रेस नेताओं पर हुए एफआईआर के मुद्दे पर प्रतिक्रिया देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मौजूदा सरकार ने प्रदर्शन करने और अपनी राय रखने के अधिकार को गैरकानूनी घोषित कर रखा है।

Also read:  AIIMS पैनल ने खारिज की सुशांत सिंह राजपूत केस में मर्डर की थ्योरी: सूत्र

 

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को महंगाई, बेरोजगारी, जीएसटी और अग्निपथ योजना के खिलाफ संसद से लेकर राष्ट्रपति भवन तक विरोध प्रदर्शन को लेकर दिल्ली पुलिस ने नई दिल्ली जिले के तुगलक रोड थाने में दो एफआईआर दर्ज की गई है। यह एफआईआर कांग्रेस के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं के खिलाफ दर्ज हुई है। इसमें नेताओं पर सरकारी काम में बाधा पहुंचाने का आरोप लगाया गया है।

Also read:  नगर पालिका मंत्री ने कृषि जनगणना पुस्तक का विमोचन किया

दिल्ली पुलिस द्वारा कांग्रेस पार्टी के सांसद राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी सहित कई नेताओं और प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया था। फिलहाल दिनभर परेशान होने के बाद दिल्ली पुलिस ने इन घटनाओं को लेकर दो एफआईआर दर्ज की है। तुगलक रोड थाने में यह दोनों एफआईआर दर्ज की गई हैं, जिसमें कुछ नेताओं और कार्यकर्ताओं को आरोपित बनाया गया है। पुलिस का कहना है कि इस मामले की छानबीन के लिए सभी वीडियो फुटेज को खंगाला जा रहा है। उसी के आधार पर आरोपियों की पहचान की जाएगी और उनके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा।

Also read:  बीजेपी के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा ने आज कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस का हाथ थाम लिया, उनके 5 अहम बयान