English മലയാളം

Blog

Screenshot 2023-04-01 135919

सऊदी अरब के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और जर्मनी में पूर्व राजदूत डॉ. ओसामा शोबोक्शी का शुक्रवार को 80 वर्ष की आयु में बीमारी की अवधि से पीड़ित होने के बाद निधन हो गया।

शुक्रवार को अस्र की नमाज के बाद जेद्दा की जफाली मस्जिद में मृतक के जनाजे की नमाज अदा की गई। कई डॉक्टरों, मीडिया पेशेवरों और कार्यकर्ताओं ने डॉ. शोबोक्शी का शोक मनाया, और सर्वशक्तिमान ईश्वर से उनकी दया की बहुतायत के लिए आशीर्वाद मांगा। उन्होंने कई क्षेत्रों में उनके कारनामों और योगदानों को गिनाया।

Also read:  नूंह के खेड़ला चौक पर हिंसा में शामिल थे दो रोहिंग्या युवक, हिंसा में रोहिंग्या कनेक्शन आने के बाद जिला प्रशासन ने की जांच शुरू

शोबोक्शी का जन्म 1943 ई. में जेद्दा में हुआ था। उन्होंने जर्मनी में एर्लांगेन विश्वविद्यालय से आंतरिक चिकित्सा में पीएचडी प्राप्त की और आयरिश रॉयल कॉलेज ऑफ सर्जन्स से मानद फैलोशिप प्राप्त की।

Also read:  मानसून की गतिविधियां हो रही कम, दक्षिण भारते के कई राज्यों में जमकर बारिश

शोबोक्शी ने जेद्दा में किंग अब्दुलअज़ीज़ विश्वविद्यालय में चिकित्सा संकाय में व्याख्याता के रूप में काम किया। उन्होंने स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में कई नेतृत्वकारी पदों पर भी कार्य किया। वह कई अस्पताल बोर्डों के सदस्य और जेद्दा में किंग अब्दुलअज़ीज़ विश्वविद्यालय के निदेशक थे।

Also read:  UAE weather: गर्म और धूल भरी हवाएं, तापमान 43ºC . तक पहुंचने का अनुमान

राजा फहद के शासनकाल के दौरान डॉ. शोबोक्शी 1416 हिजरी से 1424 हिजरी तक स्वास्थ्य मंत्री थे, और फिर शाही दरबार में सलाहकार थे। बाद में उन्हें जर्मनी में किंगडम के राजदूत के रूप में नियुक्त किया गया।