English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-05-12 083829

फुलवारी शरीफ के बेउर थाना क्षेत्र में 30 अप्रैल को प्रॉपर्टी डीलर विक्की पासवान के संदिग्ध तरीके से गायब ( 29 अप्रैल से लापता) होने का मामला दर्ज किया गया।

 

पुलिस ने अनुसंधान किया तो परत दर परत तार खुलते चले गए। तफ्तीश में यह बात पता लगी कि जिस विक्की पासवान ने अपनी एक प्रेमिका के पति संतोष की हत्या कराने के लिए मंतोष से मिलकर शूटर बाबा को सुपारी दी थी, उसी शूटर बाबा ने विक्की पासवान के प्रॉपर्टी डीलिंग में पार्टनर रहे रवि से 5 लाख की सुपारी लेकर उसका ही अपहरण किया और फिर उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने इस हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए पटना, छपरा और मोतिहारी जिले में अपना जाल बिछाकर पूरे मामले का उद्भेदन कर दिया।

फुलवारीशरीफ के एएसपी मनीष कुमार के अनुसार, 30 अप्रैल को दिन के 11 बजे विक्की पासवान को कांट्रैक्ट किलर ने उठाया था और शाम 7:00 बजे मोतिहारी के रास्ते में पिपरा के पास उसकी हत्या कर दी थी। शव भी वहीं फेंककर फरार हो गया था। पुलिस ने इस मामले में आरोपियों और शूटर के साथ 13 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। हत्या में मुख्य रूप से मंतोष जो कि विक्की पासवान का प्रॉपर्टी डीलिंग के कारोबार में पार्टनर था, उसके द्वारा ही सुपारी रवि और रामाशीष उर्फ शूटर बाबा को 5 लाख की सुपारी दी थी।

Also read:  भारत में पिछले 24 घंटे में दर्ज हुए 23,950 नए COVID-19 केस, 333 की मौत

इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी रवि, राम आशीष उर्फ शूटर बाबा, विपुल कुमार, मोहम्मद रुस्तम, राहुल कुमार ,सुधीर ओमप्रकाश, जितेंद्र, मुन्ना, जितेंद्र रविदास, देव कुमार और राहुल कुमार को गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से 28 जिंदा कारतूस एक रिवॉल्वर, एक कट्टा, एक चाकू, हत्या में शामिल फोर व्हीलर और मृतक का मोटरसाइकिल बरामद किया है। इसके अलावा मृतक के हत्या के पहले मृतक के एटीएम से खरीदे गए कई कपड़े और जूते भी बरामद किए हैं। 9 सिम कार्ड और कई मोबाइल भी बरामद किये गये हैं। एक वह मोबाइल भी है जिसका इस्तेमाल हत्या की साजिश में किया गया था।

Also read:  कोहरे की चादर में लिपटा उत्तर भारत, दिल्ली में प्रदूषण घटा, लेकिन गलन वाली सर्दी बढ़ी

पुलिस ने इस मामले की तफ्तीश में पाया कि मृतक विक्की पासवान ने राजीव नगर में रहने वाली अपनी प्रेमिका के पति संतोष कुमार की हत्या के लिए मंतोष कुमार के सहयोग से सुपारी किलर राम आशीष कुमार उर्फ शूटर बाबा को एक लाख 35 हजार सुपारी दी थी। जब यह हत्या करने पहुंचा तो मंतोष कुमार मजदूरी करते हुए दिखाई दिया, जिसकी वजह से शूटर ने उसकी हत्या करने का मन बदल दिया।

इसी दौरान हत्या में विलंब करने पर बार-बार शूटरों को विक्की पासवान धमकी देने लगा तो इस मामले में रवि कुमार जो कि मित्र मंडल कॉलोनी का ही रहने वाला है, उसने बेतौड़ा गांव के एक जमीन एग्रीमेंट में 40 लाख के मुनाफा के लालच में मंतोष कुमार से मिलकर विक्की पासवान की हत्या करने के लिए 5 लाख में सुपारी किलर से सौदा तय कर ली और शूटरों ने विक्की की पासवान को एक फॉर्च्यूनर गाड़ी से ले जाकर उस गाड़ी का नंबर बदल कर विपुल कुमार के सहयोग से फॉर्च्यूनर पर बैठाकर छपरा होते हुए मोतिहारी ले गया और वही उसकी हत्या कर दी।

Also read:  ओमिक्रॉन से मिली इम्युनिटी, ठीक हुए लोगों में भरपूर प्रतिरोधक क्षमता

मृतक विक्की पासवान का मोटरसाइकिल दरियापुर थाना क्षेत्र में लावारिस हालत में छोड़ दिया और मोतिहारी के पिपरा थाना क्षेत्र में फॉर्च्यूनर गाड़ी में ही गले में रस्सी लगाकर उसकी हत्या कर दी और शव को फेंक दिया। इस मामले में पिपरा थाना में विक्की पासवान की हत्या का एक मामला भी दर्ज किया गया। पुलिस ने इस मामले में खुलासा करते हुए हत्या में शामिल सुपारी देने वाले उसके प्रॉपर्टी डीलर पार्टनर और सूत्रों के साथ इस मामले में संलिप्त 13 लोगों को गिरफ्तार किया है और जेल भेजने की कार्रवाई में लग गई है।