English മലയാളം

Blog

Priyanka Gandhi Vadra in Valmiki Mandir : हाथरस (Hathras) में दलित लड़की के साथ हुई दरिंदगी के मामले में पीड़ित परिवार से मिलने जाने यूपी पुलिस द्वारा रोके जाने के बाद अब कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने दिल्ली के
वाल्मीकि मंदिर का रुख किया है. शुक्रवार को कांग्रेस ने मंदिर मार्ग स्थित वाल्मीकि मंदिर में पहुंची और यहां प्रार्थना सभा में शामिल हुईं.

वाल्मीकि मंदिर पहुंची प्रिंयका गांधी वाड्रा ने कहा, मैं यहां प्रार्थना सभा में शामिल होने के लिए आई हूं.” इसके बाद प्रियंका ने भगवान वाल्मीकि को नमन किया और मंदिर में लगी महात्मा गांधी की प्रतिमा पर भी पुष्प अर्पित किए.

Also read:  क्या प्रशांत किशोर और नीतीश कुमार में फिर सियासी सेटिंग हो सकती है? नीतीश कुमार ने प्रशांत किशोर से भी सोमवार की शाम मुलाकात की थी।

प्रियंका गांधी ने हाथरस मामले पर कहा, ‘पीड़ित परिवार को सरकार की कोई मदद नहीं मिली. उसका परिवार अकेला महसूस कर रहा होगा. हम राजनीतिक दबाव सरकार पर डालेंगे. हमारी बहन के साथ न्याय नहीं हुआ. हम अपनी बहन को न्याय दिलवाएंगे. जब तक उसे इंसाफ नहीं मिलेगा हम शांत नहीं बैठेंगे.’

Also read:  उत्तराखंड राज्य 22 वां स्थापना दिवस, उत्तराखंड के इन पर्यटन स्थलों को नहीं देखा होगा आपने ! दिल हो जाएगा बाग-बाग

आपको बता दें कि हाथरस की पीड़िता भी वाल्मीकि समाज से ही थी और दिल्ली में जिस जगह ये वाल्मीकि मंदिर है उसके पास ही एक बड़ी वाल्मीकि बस्ती भी है. जहां इस समाज के लोगों की अच्छी खासी संख्या है.

यहां किसी भी नेता का आना उसके दलित समुदाय के साथ खड़े होने का संदेश माना जाता है. महात्मा गांधी से लेकर, नरेंद्र मोदी तक और अरविंद केजरीवाल से लेकर प्रियंका गांधी तक सभी ने कहीं ना कहीं इस जगह को अपने सार्वजनिक जीवन में दलितों के साथ खड़े होने के संकेत के रूप में दर्शाया है.

महिलाओं की सुरक्षा की जिम्मेदारी सरकार को लेनी पड़ेगी- प्रियंका गांधी