English മലയാളം

Blog

Screenshot 2021-12-30 115153

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, भारत ने बुधवार तक 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 781 ओमिक्रोन के मामले दर्ज किए गए हैं।

 

अपने नए साल के संदेश में, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) दिल्ली के डायरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया ने देश भर में कोरोनो वायरस (Corona Virus) के ओमिक्रोन वेरिएंट (Omicron Variant) के बढ़ते मामलों के बीच लोगों को “घबराने की नहीं, बल्कि सतर्क रहने की” सलाह दी है।

एम्स द्वारा पोस्ट किए गए एक वीडियो संदेश में डॉ गुलेरिया ने कहा, “मैं इस मौके पर देश के सभी लोगों की खुशी, बेहतर हेल्थ और समृद्ध 2022 की कामना करता हूं।” उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे हम आगे बढ़ते हैं, हमारे लिए यह समझना जरूरी है कि कोरोना महामारी (Corona Pendemic) अभी खत्म नहीं हुई है, हालांकि अच्छी बात ये है कि फिलहाल हम बेहतर स्थिति में हैं।”

Also read:  Dubai jobs: अमीरात ने पायलटों के लिए रिक्तियों की सूची बनाई; कर्मचारी लाभ, आवेदन कैसे करें

डॉक्टर गुलेरिया ने कहा, “हमारे पास बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं जिन्हें टीका लगाया गया है, देश में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं।” इसलिए, हमें यह समझना होगा कि मास्क पहनना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि फिलहाल कोरोना से बचने का एकमात्र और कारगर तरीका है शारीरिक दूरी बनाना। कोरोना का यह वेरिएंट सुपर स्प्रेडर है इसलिए भीड़ भाड़ वाली जगहों से दूर रहें और कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें।

देश में ओमिक्रोन के 781 मामले दर्ज

Also read:  भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) और बैंक इंडोनेशिया भुगतान प्रणाली में सहयोग बढ़ाने पर सहमत

बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, भारत ने बुधवार तक 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 781 ओमिक्रोन के मामले दर्ज किए गए हैं. नए वेरिएंट के सबसे ज्यादा मामले दिल्ली में सामने आ रहे हैं। यहां ओमिक्रोन के सबसे अधिक 283 मामले दर्ज किए जा चुके हैं, इसके बाद महाराष्ट्र में 167 लोग इस वेरिएंट का शिकार हो चुके हैं, गुजरात में 73, केरल में 65, तेलंगाना में 62, राजस्थान में 46, कर्नाटक में 34 और तमिलनाडु में ओमिक्रोन वेरिएंट के 34 मामले दर्ज किए जा चुके हैं।