English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली: 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एसोचैम (ASSOCHAM) में सम्मेलन में शनिवार को कहा कि हम लगातार सुधार कर रहे हैं और,जल्द इन सुधारों के अच्छे नतीजे देखने को मिलेंगे. प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 6 सालों में हमने 1500 से ज्यादा पुुराने कानूनों को खत्म किया है. अब देश की जरूरतों के हिसाब से कानून बनाना जारी रखेगें. 6 महीने पहले जो कृषि सुधार किए गए उनका लाभ भी अब किसानों को मिलना शुरू हो गया है. हमारे देश के किसानों के पास बड़ा भंडार है. उसे दुनिया के बाजार में ले जाने के लिए कोशिश होनी चाहिए.

Also read:  पेरिस जलवायु समझौते को पांच साल पूरे, जानें इसके प्रति भारत अपनी प्रतिबद्धता में कहां खड़ा है

प्रधानमंत्री ने कहा दुनिया को आज भारतीय अर्थव्यवस्था पर विश्वास है, महामारी के दौरान, जब पूरी दुनिया निवेश को लेकर चिंतित थी. भारत में रिकॉर्ड एफडीआई और एफपीआई निवेश आया. भारत में हर क्षेत्र में निवेश के कई अवसर हैं. देश उद्यमियों और वेल्थ सृजन करने वालों के साथ खड़ा है, जो कि देश युवाओं को कई सारे अवसर देंगे. भारत के युवा नवाचार और स्टार्टअप क्षेत्र में अपना नाम बना रहे हैं.

Also read:  नए कोरोना का खौफ: सात जनवरी 2021 तक ब्रिटेन से आने वाली सभी उड़ानों पर प्रतिबंध

उन्होंने कहा कि पहले दुनिया के निवेशक  कहते थे – Why इंडिया? अब दुनिया में निवेशक कहते हैं — व्हाय नॉट इंडिया? नया भारत… आज आत्मनिर्भर भारत आगे बढ़ रहा है. हमारा सबसे ज्यादा ध्यान मैन्युफैक्चरिंग पर है. हम लगातार सुधार कर रहे हैं. पहली बार 10 सेक्टरों को प्रोत्साहन संबद्ध योजना (Incentive Linked Scheme) के दायरे में लाया गया है. उम्मीद है बहुत कम समय में इसके अच्छे नतीजे मिलेंगे.