English മലയാളം

Blog

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में सीट बंटवारे का फार्मूला लगभग तय हो गया है। जानकार बताते हैं कि भारतीय जनता पार्टी BJP और जनता दल JDU बराबर-बराबर सीटों पर चुनाव लड़ेगी और बाकि सीटों को  लोक जन शक्ति पार्टी LJP और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा HAM के बीच बांटा जाएगा।

सीट शेयरिंग से जुड़े एक नेता के अनुसार, शुरुआती दौर की चर्चा के बाद भाजपा के कैडर का सुझाव है कि जेडीयू और बीजेपी दोनों को 105 से 110 के बीच सीटों पर चुनाव लड़ना चाहिए और बाकी बची सीट को सहयोगियों के बीच विभाजित करना चाहिए। वहीं जदयू कैडर इस बात पर जोर दे रहा है कि पार्टी के पास एक सीट ही सही लेकिन भाजपा से अधिक सीटें होनी चाहिए।

Also read:  राज्य सरकार से जुड़े किसी भी व्यक्ति को चुनाव आयुक्त बनाना भारत के संविधान के विरुद्ध: सुप्रीम कोर्ट

उधर बीजेपी नेतृत्व ने ये ऐलान कर दिया है पार्टी कार्यकर्ता सभी सहयोगियों के लिए भी चुनाव प्रचार करेंगे और इस चुनाव में पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम नीतीश कुमार चुनाव के दो चेहरे होंगे।  पार्टी कैडर के सुझाव के मुताबिक चूंकि इस बार जेडीयू के खिलाफ सत्ता विरोधी लहर है इसलिए बीजेपी को अधिक सीट न मिले तो कम से कम बराबर संख्या में सीटों पर चुनाव लड़ना चाहिए।

पार्टी के नेता ने कहा कि लोजपा को इस फार्मूले के लिए सहमत होना होगा क्योंकि गठबंधन के शेष सहयोगियों के लिए भी सीट पर विचार करना है। सीट आवंटन और टिकट वितरण का कार्य करते समय एनडीए में शामिल हम और राजद के कुछ ऐसे नेता जिन्होंने पिछला चुनाव जीता था उन पर भी विचार करना है।

Also read:  Bihar Election Results 2020 Updates: शुरुआती रुझानों में बड़ा उलटफेर, नीतीश को मिला बहुमत

वहीं लोजपा मांग कर रही है कि उसे लोकसभा चुनावों में जितनी सीटें मिली थी, उससे छह गुना सीटें मिलनी चाहिए। लोजपा ने चेतावनी दी है कि अगर उसकी मांगें पूरी नहीं हुईं तो वह तीन चरण में होने वाले चुनाव में बिहार की 243 सीटों में से 143 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। हालांकि पार्टी कह रही रही है कि पार्टी सिर्फ जदयू के खिलाफ अपने कैंडिडेट्स को खड़ा करेगी।

बीजेपी एनडीए को टूट से बचाने और एलजेपी के एनडीए से अलग होकर जदयू से संभावित किसी भी त्रिकोणीय मुकाबले को रोकने के लिए चिराग पासवान से सीट शेयरिंग पर बातचीत कर रही है। आपको बता दें कि चिराग पासवान जेडीयू और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के मुखर आलोचक रहे हैं और उन्होंने यह भी सुझाव दिया था कि भाजपा को सीटों का एक हिस्सा मिलना चाहिए।

Also read:  आज भी दिल्ली-एनसीआर के कई क्षेत्रों में इंटरनेट बंद, घर से काम और ऑनलाइन कक्षाएं प्रभावित

एक दूसरे भाजपा नेता ने कहा कि सोमवार को भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और चिराग के बीच इसी मुद्दे पर बैठक के बाद लोजपा प्रमुख और भाजपा नेतृत्व के बीच बैठकों का दूसरा दौर चल रहा है। उन्होंने उम्मीद जाहिर की कि इस सप्ताह के अंत तक सभी मुद्दों समाधान हो जाएगा। वहीं इस मुद्दे पर एलजेपी नेताओं ने जवाब नहीं दिया।