English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली: COVID Vaccine Dry Run: कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) से जुड़ी तैयारियों को परखने और लॉजिटिक्स एवं ट्रेनिंग में खामियों की जांच करने के लिए आज सभी राज्यों में ड्राई रन (पूर्वाभ्यास) किया जाएगा. इसके साथ ही जमीनी स्तर पर कोविन (CoWIN) सुविधा का भी परीक्षण किया जाएगा. टीकाकरण अभियान को शुरू करने और उसमें तेजी लाने के लिए कोविन को तैयार किया गया है, जो कि एक डिजिटल प्लेटफॉर्म है. सरकार की ओर से नियुक्‍त पैनल द्वारा सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया निर्मित ऑक्‍सफोर्ड कोविड-19 वैक्‍सीन को मंजूरी देने की सिफारिश करने के एक दिन बाद यह देशव्यापी अभियान चलाया जा रहा है. इसे मंजूरी के लिए ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) को भेजा जाएगा.

केंद्र ने कहा कि दो जनवरी को सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों द्वारा कोविड-19 टीकाकरण का पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) किया जाएगा जिससे कि अभियान में आने वाली चुनौतियों की पहचान की जा सके और योजना तथा क्रियान्यवन के बीच की कड़ियों को परखा जा सके. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, आज देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 116 जिलों की 259 साइट पर वैक्सीन का ड्राई रन किया जाएगा. इस कवायद को सभी राज्यों की राजधानियों में कम से कम तीन सत्र स्थलों पर अंजाम दिए जाने का प्रस्ताव है.

Also read:  2 महीने में 10 लाख तक पहुंच सकते हैं ओमिक्रॉन के केस, एक्सपर्टों ने चेताया

केंद्र ने कहा कि दो जनवरी को सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों द्वारा कोविड-19 टीकाकरण का पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) किया जाएगा जिससे कि अभियान में आने वाली चुनौतियों की पहचान की जा सके और योजना तथा क्रियान्यवन के बीच की कड़ियों को परखा जा सके.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, आज देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 116 जिलों की 259 साइट पर वैक्सीन का ड्राई रन किया जाएगा, इस कवायद को सभी राज्यों की राजधानियों में कम से कम तीन सत्र स्थलों पर अंजाम दिए जाने का प्रस्ताव है.ड्राई रन के लिए तीन सत्र स्थलों में से प्रत्येक के लिए प्रभारी चिकित्सा अधिकारी 25 लाभार्थियों (स्वास्थ्यकर्मियों) की पहचान करेंगे जिन्हें डमी टीका लगाया जाएगा. मंत्रालय ने कहा कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से यह सुनिश्चित करने को भी कहा गया है कि इन लाभार्थियों का ब्योरा ‘को-विन’ ऐप पर अपलोड हो.

Also read:  राजनाथ सिंह ने चीन और पाक से लगती सीमा पर बने 44 पुलों का किया उद्घाटन, लद्दाख में 7 पुल खुले

टीका लगाने के कार्य से जुड़े लगभग 96,000 कर्मियों को प्रशिक्षित किया गया है. कुल 2,360 भागीदारों को राष्ट्रीय प्रशिक्षक प्रशिक्षण में प्रशिक्षित किया गया है, वहीं 719 जिलों में 57,000 से अधिक भागीदारों को जिला स्तर का प्रशिक्षण दिया गया है. टीका/सॉफ्टवेयर संबंधी किसी भी जानकारी के लिए राज्य हेल्पलाइन 104 भी (1075 के अतिरिक्त) इस्तेमाल की जाएगी.

इस कवायद में खंड एवं जिला स्तर पर निगरानी भी की जाएगी तथा राज्य कार्यबल फीडबैक की समीक्षा करेगा और इसे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ साझा करेगा. पहले चरण का पूर्वाभ्यास 28-29 दिसंबर को आंध्र प्रदेश, असम, गुजरात और पंजाब के दो-दो जिलों में किया गया था.

केंद्र सरकार के निर्देश पर पंजाब और हरियाणा में शनिवार से कोविड-19 टीकाकरण का पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) होगा. पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने बयान में बताया कि राज्य सरकार दो और तीन जनवरी को पटियाला में एक अभियान चलाएगी. पंजाब ने पटियाला जिले को चुना है जहां सरकारी मेडिकल कॉलेज, सद्भावना अस्पताल और सतराना के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पूर्वाभ्यास किया जाएगा.

Also read:  राजस्थान: सचिन पायलट कोरोना पॉजिटिव, बोले- डॉक्टर की सलाह ले रहा हूं

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोविड-19 के टीकाकरण का पूर्वाभ्यास करने के लिए तीन स्थानों का चयन किया गया है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “शाहदरा के गुरु तेग बहादुर अस्पताल, दरियागंज का शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और द्वारका का वेंकटेश्वर अस्पताल दिल्ली में तीन स्थान हैं जिनका चयन पूर्वाभ्यास के लिए किया गया है.”राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से यह सुनिश्चित करने को भी कहा गया है कि पर्याप्त स्थान, साजो-सामान संबंधी प्रबंध, इंटरनेट कनेक्टिविटी, बिजली, सुरक्षा, इत्यादि के लिहाज से सभी प्रस्तावित स्थलों का भौतिक सत्यापन किया जाए. मंत्रालय ने कहा कि पूर्वाभ्यास राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के प्रशासन को प्रशीतन श्रृंखला प्रबंधन सहित टीका आपूर्ति के प्रबंधन, भंडारण और साजो-सामान में भी समर्थ करेगा.