English മലയാളം

Blog

दिल्ली-एनसीआर समेत पूरा उत्तर भारत इन दिनों शीतलहर की चपेट में है। दिल्ली में आज सीजन की सबसे ठंडी सुबह दर्ज की गई है। दिल्ली के सफदरजंग सेंटर पर आज न्यूनतम तापमान 3.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है जो सामान्य से चार डिग्री से भी ज्यादा कम है। बता दें कि इससे पहले इस मौसम में न्यूनतम तापमान 3.4 डिग्री तक भी दर्ज हो चुका है।

बुधवार को भी हड्डियां गला देने वाली ठंड ने परेशान किया। ठंड बढ़ने के कारण न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम 3.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। गौरतलब है कि मौसम विभाग ने पहले ही अनुमान लगाया था कि नए साल से एक दिन पहले न्यूनतम तापमान 3 डिग्री तक पहुंच सकता है।

Also read:  किसान आंदोलन : ठंड के बीच प्रदर्शन में शामिल पंजाब के एक किसान की टिकरी बॉर्डर पर मौत

इसका मुख्य कारण है कि मैदानी इलाकों में शुष्क और बर्फीली हवाएं चल रही हैं। बुधवार को न्यूनतम केसाथ-साथ अधिकतम तापमान में भी गिरावट हुई। अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम 16.4 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम 3.5 डिग्री सेल्सियय दर्ज किया गया।

Also read:  कृषि कानूनों के खिलाफ केरल विधानसभा में प्रस्ताव पास, सीएम ने कहा- किसानों की चिंता होनी चाहिए दूर

20 दिसंबर को 3.4 डिग्री था न्यूनतम तापमान
बीते मंगलवार को न्यूनतम तापमान 3.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। इससे पहले 20 दिसंबर को न्यूनतम तापमान 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था जो कि इस सीजन का अब तक का सबसे कम तापमान है। मौसम विभाग मैदानी इलाकों में न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने पर शीत लहर की घोषणा करता है। गंभीर शीत लहर तब होती है जब न्यूनतम तापमान 2 डिग्री सेल्सियस या उससे कम होता है।

Also read:  कंगना रनौत और उनकी बहन देशद्रोह वाले केस में पूछताछ के लिए मुंबई पुलिस के सामने हुईं पेश

विभाग के अनुसार पश्चिमी हिमालय से आने वाली ठंडी हवाओं से मैदानी इलाकों में रुक-रुक कर बारिश कर रही है। इससे उत्तर भारत में न्यूनतम तापमान में गिरावट आ रही है। दो जनवरी से अधिकतम तापमान व न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होने की संभावना है। पांच जनवरी तक अधिकतम तापमान 21 डिग्री व न्यूनतम तापमान सात से नौ डिग्री के बीच बने रहने का अनुमान है। इस दौरान हल्की बारिश भी हो सकती है।