English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली: 

बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस रेखा (Rekha) का आज अपना 66वां जन्मदिन मना रही हैं. उनका जन्म 10 अक्टूबर 1954 में चेन्नई में हुआ था. उन्होंने अपने फिल्मी करियर में कई उतार-चढ़ाव देखें. 66 साल उम्र होने के बाद भी रेखा की खूबसूरती पहले की तरह ही बरकरार है. उनकी खूबसूरती आज भी दूसरी अभिनेत्रियों के चेहरे की चमक को फीका कर देती हैं. रेखा (Rekha Birthday) की फिल्मों से लेकर व्यक्तिगत जीवन तक कई बार ऐसे मोड़ आए, जब वह टूट सी गईं. हालांकि फिर भी उन्होंने हार नहीं मानी और सफलता की सीढ़ियां चढ़ती गईं. आइए आज हम आपको बताते हैं, रेखा की जिंदगी से जुड़ी कुछ खास बातें.

Also read:  रिहाना का 'फेंटी फैशन ब्रांड' हुआ सस्पेंड, साल 2019 में हुआ था लॉन्च

– रेखा (Rekha) ने 1966 में दक्षिण भारतीय फिल्म ‘रंगुला रत्नम’ से अपने अभिनय करियर की शुरुआत की. उस फिल्म में वह बाल कलाकार थीं. अपने करियर में रेखा ने करीब 175 हिंदी और दक्षिण भारतीय फिल्मों में काम किया है जिनमें ‘खूबसूरत’, ‘खून भरी मांग’, ‘खून और पसीना’, ‘मुकद्दर का सिकंदर’ और ‘उमराव जान’ उनकी बेहद कामयाब फिल्में हैं. वह तीन फिल्मफेयर और एक राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीत चुकी हैं. रेखा को भारत सरकार द्वारा पद्मश्री से भी सम्मानित किया जा चुका है.

– रेखा (Rekha 66th Birthday) के पिता जेमिनी गणेशन दक्षिण भारतीय अभिनेता थे. उनकी चार शादियां हुईं लेकिन उन्होंने रेखा (Rekha) की मां पुष्पावल्ली को, जो उस समय तेलुगु अभिनेत्री थीं, कभी पत्नी का दर्जा नहीं दिया. इस वजह से उन्होंने रेखा को कभी नहीं अपनाया. हालांकि 1990 में जब रेखा ने मुकेश अग्रवाल से तिरुपति मंदिर में दूसरी बार शादी की तब गणेशन उन्हें आशीर्वाद देने पहुंचे थे.

Also read:  Laxmii Social Media Reaction: ‘लक्ष्मी’ देखने के बाद सोशल मीडिया पर मीम्स की बाढ़, फैंस ने ऐसे उड़ाया फिल्म का मज़ाक

– साल 1990 में रेखा ने दिल्ली के उद्योगपति मुकेश अग्रवाल से शादी की थी, हालांकि यह शादी ज्यादा दिन नहीं टिकी और दोनों का तलाक हो गया. बाद में मुकेश अग्रवाल ने आत्महत्या कर ली थी. लेकिन रेखा आज भी सिंदूर लगाती हैं. अपनी शादी से पहले ऋषि कपूर और नीतू सिंह की शादी में वह सिंदूर लगाकर पहुंची थीं. बाद में साल 2008 में एक अवॉर्ड समारोह में भी वह सिंदूर लगाकर पहुंची थीं. वह सिंदूर क्यों लगाती हैं इसका रहस्य आज तक किसी को नहीं पता चल पाया है.

Also read:  एक बार फिर करणी सेना के निशाने पर आई प्रकाश झा की 'आश्रम', टाइटल को लेकर मचा हंगामा

– रेखा (Rekha) ने 1966 में दक्षिण भारतीय फिल्म ‘रंगुला रत्नम’ से अपने अभिनय करियर की शुरुआत की. उस फिल्म में वह बाल कलाकार थीं. अपने करियर में रेखा ने करीब 175 हिंदी और दक्षिण भारतीय फिल्मों में काम किया है जिनमें ‘खूबसूरत’, ‘खून भरी मांग’, ‘खून और पसीना’, ‘मुकद्दर का सिकंदर’ और ‘उमराव जान’ उनकी बेहद कामयाब फिल्में हैं. वह तीन फिल्मफेयर और एक राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीत चुकी हैं. रेखा को भारत सरकार द्वारा पद्मश्री से भी सम्मानित किया जा चुका है.