English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली,  देश के सबसे बड़े मॉर्गेज कर्जदाता एचडीएफसी (HDFC) ने हाउसिंग लोन पर अपनी रिटेल प्राइम लेंडिंग रेट (RPLR) में कटौती की घोषणा की है। एचडीएफसी ने होम लोन पर दरों में 0.10 फीसद की कटौती की घोषणा की है। नई दरें मंगलवार से प्रभावी हो गई हैं। एचडीएफसी ने कहा कि दर में कटौती का फायदा मौजूदा एचडीएफसी रिटेल होम लोन ग्राहकों को होगा।

नेशनल हाउसिंग बैंक (NHB) ने इस महीने की शुरुआत में कहा था कि हाउसिंग फाइनेंस सेक्टर में वृद्धि के अलग-अलग संकेत नजर आ रहे हैं। आवास वित्त कंपनियों (HFCs) के नियामक, एनएचबी ने एक बयान में कहा कि सितंबर 2020 के दौरान हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों द्वारा आवास और गैर-आवास ऋण की नई स्वीकृतियां पिछली अवधि की 130 फीसद रही थीं।

Also read:  बारां केस की तुलना हाथरस गैंगरेप एंड मर्डर से करना जनता को गुमराह करना: अशोक गहलोत

एनएचबी ने कहा, ‘आवास  वित्त कंपनियों द्वारा सितंबर 2020 के दौरान होम लोन डिस्बर्समेंट भी सितंबर 2019 की तुलना में 105 फीसदी बेहतर था।’ हाल ही में कई कर्जदाताओं ने फेस्टिव सीजन को देखते हुए होम लोन पर ब्याज दरों में कटौती की है।

Also read:  CBSE Practical Exam 2021: दसवीं-बारहवीं की प्रैक्टिकल परीक्षाएं 1 मार्च से

एचडीएफसी का शेयर मंगलवार दोपहर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर 5 फीसद की उछाल के साथ 2257 रुपये पर ट्रेंड कर रहा था। इस महीने की शुरुआत में हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिडेट ने कहा था कि उसका सितंबर तिमाही का स्टैंडअलोन मुनाफा 27 फीसद की गिरावट के साथ 2,870.12 करोड़ रुपये रहा था। एचडीएफसी ने एक साल पहले की समान अवधि में 3,962 करोड़ रुपये का मुनाफा दर्ज किया था।

Also read:  कोरोना टेस्ट की कीमत पूरे देश में हो 400 रुपये, सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से मांगा जवाब

बैंक ऑफ बड़ौदा ने भी की ब्याज दरों में कमी

इससे पहले बैंक ऑफ बड़ौदा ने भी अननी रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट्स (RLLR) में कटौती की है। बैंक ने अपनी आरएलएलआर को एक नवंबर से 0.15 फीसद कम कर दिया है। इससे यह 6.85 फीसद पर आ गई है।