English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली: 

बेंगलुरु के ज़ोमैटो वाले केस में मामला उलटता नजर आ रहा है, जिसमें एक महिला ने फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म के एक डिलीवरी एक्जीक्यूटिव पर खुद को मारने का आरोप लगाया था. मामले में पुलिस केस का सामना कर रहे डिलीवरी ब्वॉय ने आरोप लगाया है कि शिकायत करने वाली कस्टमर ने खुद उसे चप्पल मारी थी और गालियां दी थी. वहीं, उसकी नाक पर भी चोट उसकी गलती से लगी थी.

डिलीवरी ब्वॉय कामराज ने The News Minute को बताया कि महिला ने उसके साथ दुर्व्यवहार किया था और इसी दौरान उसके खुद के हाथ से उसे चोट लगी थी. वहीं, कंपनी के फाउडंर ने कहा है कि कंपनी ने इस मामले में दोनों पक्षों को सुन ही है. हालांकि, उन्होंने एक ट्वीट कर यह भी बताया कि आरोप झेल रहे डिलीवरी एक्जीक्यूटिव की रेटिंग प्लेटफॉर्म पर काफी हाई है.

बता दें कि बुधवार को बेंगलुरु की हितेशा चंद्राणी ने एक वीडियो शेयर कर अपने साथ कथित हमले की घटना बताई थी. इस वीडियो में देखा जा सकता था कि उनकी नाक से खून बह रहा था. उन्होंने बताया कि, ‘मेरा जोमेटो डिलीवरी ऑर्डर लेट हो गया था और मैं कस्‍टमर केयर के एक्‍जीक्‍यूटिव से बात कर रही थी तभी डिलीवरी के लिए आए शख्‍स ने यह किया. उसने मुझे हिट किया और खून बहते देख मुझे छोड़कर भाग निकला.

Also read:  पैंगोंग लेक इलाके में डिसएंगेजनेंट की प्रक्रिया जारी है, टैंट उखाड़ रहे PLA जवान, टैंक ले जा रहे पीछे

बाद में शेयर किए गए एक अन्‍य वीडियो में हितेशा ने बताया कि ‘मैं सुबह से काम कर रही थी और मैंने Zomato से फूड ऑर्डर किया था. मैंने ऑर्डर शाम करीब 3:30 बजे किया था, इसकी डिलीवरी करीब 4:30 बजे आनी थी. लेकिन मेरा ऑर्डर समय पर नहीं पहुंचा, इसलिए मैं लगातार Zomato कस्‍टमर केयर पर बात कर रही थी कि या तो मुझे फ्री डिलीवरी दीजिए या फिर ऑर्डर कैंसिल कर दीजिए.’ हितेशा का कहना है कि उन्होंने ऑर्डर लेने से मना कर दिया तो डिलीवरी गाई ने उन्हें नाक पर पंच दे मारा और फिर वहां से भाग गया.

Also read:  जर्मनी, इटली, फ्रांस ने ऐस्ट्राजेनेका वैक्सीन के इस्तेमाल पर लगाई रोक,WHO ने कहा - सुरक्षित है

कामराज को अस्थायी तौर पर ऐप से हटा दिया गया है और पुलिस केस फाइल किया गया है. कामराज ने वेबसाइट से बात करते हुए कहा कि ‘मैंने कस्टमर को पैसे पकड़ाए और मैं पैसे मिलने का इंतजार कर रहा था, मैंने डिलीवरी लेट होने के लिए माफी भी मांगी कि ट्रैफिक और खराब रोड के चलते ऑर्डर लेट हुआ था.’

उसने दावा किया कि हितेशा ने ऑर्डर लेकर पैसे देने से इनकार कर दिया. कामराज का कहना है कि इसके बाद एक जोमैटो अधिकारियों की ओर से बताया गया कि ऑर्डर कैंसल कर दिया गया है, तो उसने कस्टमर से ऑर्डर वापस मांगा, जिससे उसने इनकार कर दिया. कथित रूप से उसने खाने के बिना ही वहां से निकलने की सोचा लेकिन तभी कस्टमर ने उसे मारना शुरू कर दिया और हिंदी में गालियां भी दीं.

कामराज ने बताया, ‘तभी जब वो मेरा हाथ झटकने की कोशिश कर रही थीं, तभी उनकी अंगुली में पहनी अंगूठी से नाक पर चोट लग गई, जिससे खून बहने लगा. जो भी उनका चेहरा देखेगा, वो बता देगा कि वो चोट पंच लगने से नहीं आई हो सकती. और मैं अंगूठियां भी नहीं पहनता हूं.’

Also read:  मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में बोले पीएम मोदी- कोरोना की इस दूसरी लहर को तुरंत रोकना होगा,छोटे शहरों में टेस्टिंग बढ़ाने पर दिया जोर

घटना के अगले दिन कामराज को पुलिस ने बुलाया था और दो घंटों कर पूछताछ की थी. कामराज का कहना है कि उसे अब अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ कानूनी प्रक्रिया के लिए 25,000 तक खर्च करना पड़ सकता है.कंपनी के फाउंडर दीपेंदर गोयल ने घटना पर कहा कि कंपनी दोनों पक्षों को सुन रही है.

उन्होंने यह भी बताया कि कामराज कंपनी में 26 महीनों से काम कर रहा है और उसकी रेटिंग 5 में से 4.7 है, जो काफी हाई है.