English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-07-23 104739

अमरनाथ यात्रा करने की इच्छा रखने वाले लोगों के लिए बड़ा अपडेट सामने आया है। ये यात्रा दोनों मार्गों से जारी है। इससे पहले खबर मिली थी कि भारी बारिश की वजह से अमरनाथ यात्रा को एक बार फिर रोक दिया गया है।

जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग बंद होने के कारण तीर्थयात्रियों का जत्था वापस जम्मू भेज दिया गया है। हालांकि अब बालटाल से 1500 यात्री, नुनवन बेस कैंप से 2000 यात्री गुफा की ओर रवाना हो गए हैं। अधिकारियों के मुताबिक, अभी बादल छाए हुए हैं और दोनों मार्गों पर हल्की बारिश हो रही है। अगर बारिश तेज हुई तो यात्रियों को सुरक्षित जगहों पर रोका जाएगा।

मौसम विभाग के अनुसार, आज और कल यहां बारिश की संभावना है। वहीं श्रीनगर जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर भी बारिश हो रही है। शूटिंग स्टोन्स और भूस्खलन के चलते इसको बंद कर दिया गया है। हालांकि मुगल रोड और श्रीनगर जोजिला हाईवे वाहनों की आवाजाही के लिए फिलहाल खुले हुए हैं। गौरतलब है कि 43 दिन की अमरनाथ यात्रा 30 जून को शुरू हुई थी और 11 अगस्त को रक्षाबंधन के मौके पर खत्म होगी।

Also read:  भगवंत मान ने राज्यपाल से की मुलाकात, सरकार बनाने का किया दावा

बादल फटने से हो चुकी है श्रद्धालुओं की मौत

हालही में अमरनाथ गुफा के पास बादल फटने की वजह से यात्रा रोक दी गई थी। जिसके बाद यात्रा 11 जुलाई को पहलगाम के नुनवान आधार शिविर से फिर से शुरू हुई थी। गुफा के पास बादल फटने के बाद बालटाल में आई बाढ़ में कम से कम 16 लोगों की मौत हुई थी।

Also read:  बीजेपी आज करेगी उपराष्ट्रपति का नाम घोषित, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला लेंगे सर्वदलीय बैठक

देशभर से बाबा के दर्शन के लिए जम्मू पहुंच रहे श्रद्धालु

देश के विभिन्न हिस्सों से ज्यादा से ज्यादा श्रद्धालु गुफा मंदिर में दर्शन करने के लिए जम्मू पहुंचे हैं। जम्मू में आधार शिविर के अलावा पंजीकरण काउंटर, टोकन सेंटर और लॉजिंग सेंटर पर भारी भीड़ देखी जा रही है। अधिकारियों ने कहा कि भारी बारिश के कारण आई अचानक बाढ़ भी जम्मू में धार्मिक उत्साह और भक्तों के मूड को बदलने में विफल रही है। एक अधिकारी ने कहा, “बड़े उत्साह के साथ सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु आ रहे हैं। श्रद्धालुओं की संख्या में कोई कमी नहीं आई है।”

जरूरतमंदों की मदद कर रहे आईटीबीपी के जवान

आईटीबीपी के जवान जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं। अमरनाथ यात्रा मार्ग पर शेषनाग के पास तीर्थयात्रियों को आईटीबीपी के जवान ऑक्सीजन दे रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आईटीबीपी के जवानों ने अमरनाथ यात्रा के बाद से अब तक 2 हजार से ज्यादा तीर्थयात्रियों को ऑक्सीजन दी है।

Also read:  देश के कई राज्यों में भारी बारिश की आशंका, तो कहीं होगी बूंदाबांदी, जाने मौसम का मिजाज

आतंकी खतरे की वजह से सुरक्षाबल अलर्ट

इस यात्रा की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। आतंकी खतरे को देखते हुए जवान यहां पूरा तरह से मुस्तैद हैं। यात्रियों की सुरक्षा में सीआरपीएफ के बाइक स्क्वॉड कमांडो को लगाया गया है। गौरतलब है कि अमरनाथ यात्रा में रुकावट डालने के लिए आतंकी संगठन लश्कर पहले ही धमकी दे चुका है। ऐसे में सुरक्षाबल पूरी तरह अलर्ट हैं।