English മലയാളം

Blog

मुंबई: 

महान सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के  बेटे और बाएं हाथ के उभरते हुए तेज गेंदबाज अर्जुन तेंदुलकर (Arjun Tendulkar) ने शुक्रवार को यहां हरियाणा के खिलाफ सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी (Syed Mushtaq Ali Trophy) के एलीट ई लीग ग्रुप मैच में मुंबई की सीनियर टीम के लिये पदार्पण किया. और इसका उन्हें बहुत ज्यादा फायदा मिलेगा.  मुंबई ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. मुंबई की बैटिंग के दौरान अर्जुन (Arjun Tendulkar) को बैटिंग दिखाने का ज्यादा मौका नहीं मिला क्योंकि वह आखिरी बल्लेबाज के तौर पर मैदान पर उतरे, लेकिन गेंदबाजी में अर्जुन ने बेहतरीन शुरुआत करते हुए हरियाणा के ओपनर चेतेन्य बिशनोई को जल्द ही चलता कर दिया.अर्जुन ने चेतन्य को विकेट के पीछे लपकवाया. हालांकि, शुरुआती दो ओवर में अर्जुन ने 21 रन  दिए.

तेंदुलकर जूनियर को एक अन्य तेज गेंदबाज कृतिक हनागावाड़ी के साथ मुंबई की टीम में शामिल किया गया है, जिसका चयन सलिल अंकोला वाली चयन समिति ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड के कुल 22 खिलाड़ियों को चुने जाने की अनुमति के बाद किया. लॉकडाउन से पहले तक खेले क्लब स्तरीय मैचों में अर्जुन ने अपने गेंदबाजी कौशल में खासा सुधार किया है. और लॉकडाउन के दौरान भी फिटनेस पर अर्जुन ने खासा समय व्यतीत किया. यही वजह रही कि सेलेक्टरों ने पहले अर्जुन को मुंबई के संभावितों और फिर 22 सदस्यीय टीम में जगह दी. बहरहाल, मुश्ताक अली ट्रॉफी में आगाज का यह  फायदा मिलेगा कि अर्जुन अगले महीने फरवरी में होने वाली आईपीएल नीलामी में हिस्सा लेने के पात्र बन जाएंगे.

अर्जुन मुंबई के लिए विभिन्न उम्र के ग्रुप टूर्नामेंट में खेलते रहे हैं और वह उस टीम का भी हिस्सा थे जो आमंत्रण टूर्नामेंट खेलती है.  अर्जुन को भारत की राष्ट्रीय टीम के नेट में भी गेंदबाजी करते हुए देखा गया और उन्होंने 2018 में श्रीलंका का दौरा करने वाली अंडर-19 टीम में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया था.

Also read:  मोटेरा स्टेडियम का नाम अब 'नरेंद्र मोदी' स्टेडियम होगा