English മലയാളം

Blog

Screenshot 2021-12-30 113325

कोरोना और इसके नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के बढ़ते खौफ के बीच उत्तर प्रदेश के स्कूलों में 15 दिनों के शीतकालीन अवकाश की घोषणा की गई है। उत्‍तर प्रदेश माध्‍यमिक शिक्षा परिषद ने प्राइमरी, अपर प्राइमरी और जूनियर हाई स्‍कूल के लिए सर्दियों की छुट्टी की घोषणा कर दी है।

 

एकेडमिक कैलेंडर के मुताबिक राज्‍य में 31 दिसंबर से 14 जनवरी तक सर्दी की छुटि्टयां रहेंगी। अब स्‍कूल 15 जनवरी 2022 के बाद खुल सकेंगे।

Also read:  फिल्‍म निर्देशक अनुराग कश्‍यप और एक्‍टर तापसी पन्‍नू से पुणे के एक होटल में आयकर विभाग की टीम पूछताछ कर रही है:सूत्र

यूपी बोर्ड के जारी एकेडमिक कैलेंडर के मुताबिक इस साल यूपी में स्‍कूल कुल 113 दिन के बंद रहेंगे जबकि पढ़ाई 237 दिन होगी। बोर्ड परीक्षाएं 15 दिनों के भीतर आयोजित कर ली जाएंगी। इसके अलावा गर्मी की छुट्टियों के लिए स्‍कूल 21 मई से 30 जून तक बंद किए जाएंगे।

माना जा रहा है कि ओमिक्रॉन का खतरा और कोरोना की तीसरी लहर की दस्तक ने भी राज्य सरकार को यह फैसला लेने पर मजबूर किया। इसी को देखते हुए अब स्कूल किसी भी छात्र को आने के लिए बाध्य नहीं कर सकेंगे। बच्चों को स्कूल भेजने के लिए पहले अभिभावकों से सहमति लेनी होगी। शिक्षक, कर्मचारी और छात्र-छात्राओं के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा। इसको लेकर यूपी माध्यमिक शिक्षा परिषद ने प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा के आदेश पर गाइडलाइन जारी की गई है।

Also read:  कोरोना की रफ्तार ने फिर बढ़ाई टेंशन, पंजाब के जालंधर में नाइट कर्फ्यू

यह गाइडलाइन राज्य के सभी बोर्डों के स्कूलों पर लागू होगी। स्कूलों को विकल्प के तौर पर ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था करानी होगी। यदि स्कूल में किसी को भी जुकाम, बुखार आदि के लक्षण दिखते हैं तो उसे चिकित्सीय सलाह के साथ उनके घर पहुंचाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। कोई भी आयोजन तब ही किया जाए जब उसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जा सकता हो।

Also read:  शेयर बाजार में भारी गिरावट, सेंसेक्स और निफ्टी धड़ाम से गिरे