English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली: 

एक मार्च से 60 से अधिक उम्र के लोगों को कोरोना से बचाव का टीका लगाया जाएगा. यह टीका केवल सरकारी केंद्रों में मुफ्त लगेगा जबकि प्राइवेट में इसके लिए शुल्क देना होगा. यह शुल्‍क कितना होगा, यह एक-दो दिन में तय किया जाएगा. यह बात केंद्रीय मंत्री और बीजेपी प्रवक्‍ता प्रकाश जावडेकर ने बुधवार को कैबिनेट की ब्रीफिंग के दौरान दी. उन्‍होंने बताया कि ऐसे करीब 10 करोड़ लोग है.10 हजार सरकारी केंद्रों में टीका दिया जाएगा.

जावडेकर ने बताया कि पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आज हुई बैठक में 3 महत्त्वपूर्ण फैसले हुए और एक पर चर्चा हुई. कोरोना को लेकर देश ने एक सफल लड़ाई लड़ी है और अन्य देशों के मुकाबले हमारे यहां मौत भी कम हुई है. उन्‍होंने बताया कि 1 मार्च से 60 साल से ज्यादा और 45 वर्ष से ऊपर (जिन्हें कोई अन्य बीमारी है) ऐसे लोगों का टीकाकरण अभियान शुरू होगा. सरकारी केंद्रों पर ये टीकाकरण अभियान निशुल्क होगा. प्राइवेट केंद्रों पर शुल्क लगेगा जिसके बारे में हेल्थ मिनिस्ट्री फैसला लेगी.

Also read:  कई दिनों बाद सक्रिय मामलों में आई गिरावट : पिछले 24 घंटे में आए 15,388 केस, 77 लोगों की गई जान

उन्‍होंने बताया कि अब तक 1,07,67000 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है. 14 लाख लोगों को दूसरा डोज दिया गया1मार्च से 60 साल से ज्यादा आयु के लोगों और 45 से ज्यादा आयु जिन्हें कुछ बीमारी है उनका सरकारी और प्राइवेट में टीकाकरण होगा.उन्‍होंने बताया कि 10000 सरकारी सेंटर्स पर मुफ्त टीकाकरण होगा, लेकिन प्राइवेट पर कितना शुल्क लगेगा, स्वास्थ्य विभाग इसका 2 या 3 दिन एलान करेगा.