English മലയാളം

Blog

चेन्नई: 

एक्टिंग से पॉलिटिक्स में आईं तमिलनाडु की कांग्रेस नेता खुशबू सुंदर (Khushbu Sundar joins BJP) ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया और कुछ घंटों बाद ही तमिलनाडु से दिल्ली आकर सोमवार को भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गईं. खुशबू सुंदर ने अपना इस्तीफा देने के बाद कहा कि वो ऐसा पार्टी के कुछ नेताओं के ‘अपनी बात थोपने’ और ‘दबाव डालने’ के विरोध में कर रही हैं. बीजेपी जॉइन करने के बाद उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता हकीकत से काफी दूर हैं. उन्होंने यह भी कहा कि ‘राष्ट्र के तौर पर अगर आगे बढ़ना है तो हमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसे नेता की जरूरत है जो देश को सही दिशा में ले जा सकें.’

कांग्रेस ने भी उन्हें पार्टी प्रवक्ता के पद से ‘तत्काल प्रभाव’ से हटा दिया था. तमिलनाडु कांग्रेस कमेटी ने कहा कि उनके फैसले से पार्टी को कोई नुकसान नहीं होगा. बता दें कि 50 साल की लोकप्रिय तमिल अभिनेत्री सुंदर 2014 में कांग्रेस में शामिल हुई थीं. कांग्रेस में शामिल होने से पहले वह डीएमके में थीं. उन्होंने अपना इस्तीफा कांग्रेस की शीर्ष नेता सोनिया गांधी को भेजा है.

Also read:  मध्य प्रदेश के एक इंजीनियर ने खोजी गूगल की 300 गलतियां, गूगल ने दिए 66 करोड़ इनाम

उन्होंने कहा, ‘पार्टी के अंदर शीर्ष स्तर पर कुछ लोग हैं जिनका जमीनी स्तर पर कोई संपर्क या सार्वजनिक पहचान नहीं है, वो अपनी बात थोप रहे हैं और मेरे जैसे लोग जो पार्टी के लिए गंभीरता से काम करना चाहते हैं उन्हें पीछे किया जा रहा है और दबाया जा रहा है.’ उन्होंने कहा, ‘बहुत लंबे समय तक सोच-विचार करने के बाद, मैंने पार्टी के साथ अपना संबंध खत्म करने का फैसला किया है.’

Also read:  नोटबंदी पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

दक्षिण में अपनी पकड़ मजबूत करने की कोशिशों में लगी बीजेपी के लिए खुशबू सुंदर बड़ा चेहरा साबित हो सकती हैं.  खुशबू सुंदर टीवी की डिबेट्स दिखने वाली पार्टी के मुख्य चेहरों में से रही हैं, लेकिन 2014 से पार्टी के सत्ता से बाहर रहने से उनका राजनीतिक करियर सूना ही रहा है. संभावना है कि बीजेपी उन्हें 2021 के तमिलनाडु विधानसभा चुनावों में बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है. राज्यसभा सीट मिलने की भी अफवाहें भी उड़ रही हैं. बीजेपी की तमिलनाडु यूनिट ने कहा कि ‘खुशबू सुंदर तमिलनाडु में बीजेपी को लेकर दृष्टिकोण बदलेंगी.’

डीएमके, कांग्रेस और अब बीजेपी

खुशबू सुंदर ने 2010 में डीएमके जॉइन किया था, जो उस वक्त सत्ता में थी. पार्टी जॉइन करते हुए उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है मैंने सही फैसला किया है. मुझे लोगों की सेवा करना अच्छा लगता है. मैं महिलाओं की भलाई के लिए काम करना चाहती हूं.’ इसके चार साल बाद 2014 में उन्होंने कांग्रेस जॉइन कर लिया और कहा कि डीएमके के लिए उनकी मेहनत बस एकतरफा ही रही है. उन्होंने कांग्रेस में आकर कहा था कि ‘मैं आखिरकार घर आ गई हूं. कांग्रेस इकलौती ऐसी पार्टी है, जो देश का भला कर सकती है और लोगों को एकजुट कर सकती है.’

Also read:  1 करोड़ शराब की बोतलें दिल्ली वाले क्रिसमस से 31 दिसंबर तक पी गए

लेकिन अब खुशबू सुंदर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर बीजेपी की नाव में सवार हो गई हैं