English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-08-17 154802

रोहिंग्या शरणार्थियों के लिए केंद्र सरकार ने अहम फैसला लिया है जिसका केंद्रीय आवास व शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने बुधवार को स्वागत किया।

न्यूज एजेंसी एएनआइ के अनुसार, यह बात कही गई थी कि गृह मंत्रालय ने रोहिंग्याओं के लिए दिल्ली में आधारभूत सुविधाओं के साथ फ्लैट देने का फैसला लिया है। इसपर केंद्रीय आवास व शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने ट्वीट भी किया था। देश की राजधानी में बने ये फ्लैट EWS (Economic Weaker Section ) वर्ग के हैं।

केंद्रीय मंत्री ने ट्वीट किया, ‘भारत हमेशा अपने देश में आने वालों को शरण देता है। इस क्रम में सभी रोहिंग्या शरणार्थियों के लिए एक अहम फैसला लिया गया है। इसके तहत इन शरणार्थियों को दिल्ली के बक्करवाला (Bakkarwala) इलाके में बने EWS फ्लैट में शिफ्ट कर दिया जाएगा। वहां इन्हें आधारभूत सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। इसके अलावा इन्हें UNHCR IDs और 24 घंटे दिल्ली पुलिस की सुरक्षा दी जाएगी।’

पहले मिली न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार-

दिल्ली सरकार को निर्देश दिया गया है कि इन फ्लैटों को आधारभूत सुविधाओं से लैस करा दे और इसे FRRO (Foreign Regional Registration Offices) को सौंप दे जो रोहिंग्याओं को इन फ्लैटों में शिफ्ट कराएगा। कोरोना महामारी के दौरान NDMC ने दिल्ली सरकार को ये फ्लैट संदिग्ध संक्रमितों को आइसोलेट करने के लिए दिया था। इन फ्लैटों में जिन रोहिंग्याओं को लाया जाएगा उनके पास UNHCR (United Nations High Commissioner for Refugees) का ID होगा और उनके विवरण आन रिकार्ड होंगे। संयुक्त राष्ट्र ने रोहिंग्या मुसलमानों को दुनिया में सबसे अधिक शोषित अल्पसंख्यक करार दिया है। म्यांमार सेना के कथित हमले से साल 2017 में अल्पसंख्यक समुदाय ने देश छोड़ दिया था।

Also read:  मांझी ने ब्राह्मणों के लिए की ‘अभद्र’ टिप्पणी, विवाद बड़ा तो अपने ही समाज पर दे दिया विवादित बयान

Kedarnath Yatra: DGCA ने केदारनाथ यात्रा करवाने वाले पांच हेलिकाप्टर आपरेटरों पर लगाया 5-5 लाख का जुर्माना, जानें क्या है मामला