English മലയാളം

Blog

पुणे : 

कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ निर्णायक लड़ाई का आरंभ करते हुए देश में 16 जनवरी को टीकाकरण (Vaccination) अभियान शुरू करने की योजना है. इसके मद्देनजर ‘कोविशील्ड’ (Covishield) वैक्सीन की पहली खेप मंगलवार सुबह ‘सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया’ से पुणे हवाई अड्डे के लिए रवाना की गई. पुणे हवाईअड्डे से इन वैक्सीन को हवाई मार्ग के जरिए भारत के अन्य हिस्सों में पहुंचाया जाएगा. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वैक्सीन की पहली खेप पहुंच गई है.

समाचार एजेंसी पीटीआई-भाषा के मुताबिक, टीकों को ले जाने के काम से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि तापमान नियंत्रित तीन ट्रक कोविशील्ड वैक्सीन को लेकर तड़के पांच बजे से कुछ समय पहले पुणे हवाई अड्डे जाने के लिए ‘सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया’ से रवाना हुए. टीकों को इंस्टीट्यूट से रवाना करने से पहले पूजा भी की गई. ट्रकों में वैक्सीन के 478 बक्से हैं और एक बक्से का वजन 32 किलोग्राम है. सीरम इंस्टीट्यूट से रवाना हुई. वैक्सीन राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत देशभर के 13 शहरों में भेजी जाएगी.

Also read:  Bharat Bandh:किसानों के भारत बंद का पूरे देश में दिख रहा असर ,पुलिस ने जारी की एडवाइज़री

दिल्ली में आज सुबह 10 बजे के करीब कोरोना वैक्सीन की पहली खेप पहुंची. एयरलाइन कंपनी स्पाइसजेट के मैनेजिंग डायरेक्टर अजय सिंह के मुताबिक, वैक्सीन का पहला कन्साइनमेंट (खेप) पुणे से दिल्ली के लिए रवाना हुआ. 34 बॉक्स में दिल्ली के लिए वैक्सीन आ रही है.

पीटीआई ने एक सूत्र के हवाले से कहा कि वैक्सीन को आठ उड़ानों के जरिए पुणे से रवाना किया जाएगा. इसमें दो कार्गो फ्लाइट भी शामिल है. पहली कार्गो फ्लाइट हैदराबाद, विजयवाड़ा और भुवनेश्वर जबकि दूसरी उड़ान कोलकाता और गुवाहाटी को कवर करेगी. मुंबई के लिए वैक्सीन सड़क मार्ग से भेजी जाएगी.

Also read:  जेल में आसाराम की तबीयत बिगड़ी इमरजेंसी वार्ड में भर्ती

भारत सरकार की तरफ से HLL लाइफ केयर लिमिटेड (भारत सरकार का उद्यम) ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से वैक्सीन खरीदी है तथा आगे और खरीदने का करार किया है.11 जनवरी  को सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की वैक्सीन कोविशील्ड की 1.1 करोड़ डोज़ खरीदी गई.साथ ही अप्रैल 2021 तक 4.5 करोड़ डोज़ और 200 रुपये प्रति डोज़ के दर से खरीदने की प्रतिबद्धता जताई गयी है. अकेले सीरम इंस्टीट्यूट से भारत ने अब तक 5.6 करोड़ वैक्सीन डोज़ खरीदने का करार हुआ है.