English മലയാളം

Blog

पश्चिम बंगाल में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में भगवा लहराने के मकसद से केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह शनिवार सुबह कोलकाता पहुंच गए हैं। वह यहां दो दिवसीय दौरे पर आए हैं।  इस रिपोर्ट में रूबरू होते हैं अमित शाह के पूरे शेड्यूल से। साथ ही, जानते हैं कि उनके इस दौरे से बंगाल में किस तरह की हलचल हो सकती है।

कोलकाता पहुंचते ही किया ट्वीट
बता दें कि अमित शाह ने कोलकाता में कदम रखते ही एक ट्वीट किया। उन्होंने इस ट्वीट में लिखा, ‘मैं गुरुदेव टैगोर, ईश्वर चंद्र विद्यासागर और श्यामा प्रसाद मुखर्जी जैसे महान लोगों की इस धरती को सिर झुकाकर नमन करता हूं।’\

तृणमूल के कई नेता भाजपा में होंगे शामिल
गौरतलब है कि अमित शाह के इस दौरे से पहले ही सुवेंदु अधिकारी समेत तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के कई नेता पार्टी छोड़ चुके हैं। अटकलें हैं कि ये नेता अमित शाह की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हो सकते हैं।

Also read:  हम उपयुक्त समय पर जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा जरूर देंगे : लोकसभा में गृहमंत्री शाह

ऐसा है अमित शाह का पूरा शेड्यूल

>अमित शाह शनिवार यानी आज मिदनापुर में एक जनसभा को संबोधित करेंगे। न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, इस जनसभा के दौरान टीएमसी के कई नेता भाजपा का दामन थामेंगे।

Also read:  भवानीपुर सीट छोड़ रही हूं, नंदीग्राम से चुनाव लड़ूंगी : पश्चिम बंगाल की CM ममता बनर्जी

>केंद्रीय गृह मंत्री के कोलकाता पहुंचने से एक दिन पहले प्लेकार्ड्स पर रवींद्रनाथ टैगोर की तस्वीर से ऊपर अमित शाह का फोटो लगा दिया गया था, जिस पर काफी विवाद हुआ। ऐसी तस्वीरें बीरभूम जिले के बोलपुर और शांतिनिकेतन में नजर आईं। ऐसे में अमित शाह रविवार को बोलपुर जाएंगे।

>इन प्लेकार्ड्स को टैगोर द्वारा स्थापित विश्व भारती विश्वविद्यालय के छात्रों और स्थानीय लोगों ने हटा दिया था। साथ ही, नाराजगी भी जाहिर की थी।

>गौरतलब है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की बंगाल यात्रा के दौरान राज्य में कानून व्यवस्था को लेकर केंद्र सरकार और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच तनातनी जारी है। उस दौरान नड्डा के काफिले पर हमला हुआ था। उस दौरान केंद्र सरकार ने हमले को लेकर राज्य के अधिकारियों को समन भेजा था। वहीं, ममता बनर्जी ने कहा था कि भाजपा के नेता हमेशा अपनी सुरक्षा के साथ आते हैं।

Also read:  मकर संक्रांति, पोंगल के बहाने केंद्र पर राहुल गांधी का निशाना, आंदोलनकारी किसानों को दी विशेष शुभकामनाएं

>बता दें कि भाजपा की पिछले महीने हुई बैठक में तय किया गया था कि नड्डा और शाह विधानसभा चुनाव तक हर महीने बंगाल का दौरा करेंगे। माना जा रहा है कि यह सिलसिला अप्रैल-मई 2021 तक जारी रहेगा।

>नड्डा अक्टूबर 2020 के दौरान राज्य में एक दिन के दौरे पर आए थे, जबकि अमित शाह नवंबर में भी दो दिन का बंगाल दौरा कर चुके हैं।