English മലയാളം

Blog

कोलकाता: 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कोलकाता की भयंकर आग की घटना पर शोक प्रकट किया है. इस घटना में अब तक 9 लोगों की मौत हो चुकी है. सेंट्रल कोलकाता के स्ट्रैंड रोड पर स्थित इस बिल्डिंग में सोमवार की शाम भयंकर आग लग गई थी. मरने वालों में कई दमकल कर्मचारी और एक पुलिसकर्मी शामिल हैं. मौके पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी पहुंची थीं. इस बिल्डिंग में रेलवे का ऑफिस था.

पीएम मोदी ने ट्विटर पर इस घटना को लेकर दुख जाहिर किया और लिखा कि ‘कोलकाता में आग की त्रासद घटना में कई जानें जाने से दुखी हूं. इस शोक की घड़ी में मेरी सांत्वनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं. आशा है कि घायल जल्द स्वस्थ हो जाएं.’

अधिकारियों ने बताया कि आग की इस घटना में मरने वालों में चार दमकलकर्मचारियों, एक पुलिसकर्मी, एक रेलवे अधिकारी और एक सुरक्षाकर्मी शामिल हैं. बिल्डिंग की तेरहवीं मंजिल पर आग लगी थीं. पांच शव बिल्डिंग के एलिवेटर में से मिले हैं. अंदाजा है कि उनकी मौत लिफ्ट में दम घुटने की वजह से हुई है. हैरानी जताई जा रही है कि आखिर रेस्क्यू के लिए एलिवेटर का इस्तेमाल क्यों किया जा रहा था.

Also read:  बिहार चुनाव: बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा- मोदी हैं तो मुमकिन है, नीतीश हैं तो प्रदेश आगे बढ़ेगा

स्ट्रैंड रोड पर स्थित न्यू कोइला घाट बिल्डिंग सरकारी बिल्डिंग है. इसमें ईस्टर्न रेलवे और सदर्न ईस्टर्न रेलवे के कार्यालय हैं. इमारत में रेलवे टिकटिंग के कई कार्यालय हैं. ममता बनर्जी ने कहा कि वो राजनीति नहीं करना चाहती हैं, लेकिन मौके पर न तो रेलवे का कोई अधिकारी आया, न हीं उन्होंने कोई नक्शा दिया.मृतकों के परिवारों को ममता ने 10 लाख का मुआवजा देने का ऐलान किया है.