English മലയാളം

Blog

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections 2020) का प्रचार गुरुवार को समाप्त होने से चंद घंटे पहले ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने बड़ा ऐलान किया. सीएम नीतीश कुमार ने पूर्णिया जिले के धमदाहा में जेडीयू की चुनावी रैली में कहा कि ये उनका आखिरी चुनाव है. नीतीश कुमार यहां जेडीयू प्रत्याशी लेसी सिंह के लिए प्रचार करने पहुंचे थे. इस दौरान नीतीश कुमार ने कहा कि सब लोग मिलकर लेसी सिंह को भारी मतों से विजय बनाइएगा.

Also read:  बिहार चुनाव: बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा- मोदी हैं तो मुमकिन है, नीतीश हैं तो प्रदेश आगे बढ़ेगा

नीतीश कुमार ने कहा, “आज चुनाव प्रचार का अंतिम दिन है और ये मेरा आखिरी चुनाव है…अंत भला तो सब भला..बताइये जिताइयेगा ना लेसी सिंह को?”

इससे पहले किशनगंज की रैली में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने कहा है कि किसी में इतना दम नहीं है कि वो हमारे लोगों को देश से बाहर कर दे. इसी दिन योगी आदित्यनाथ ने एक चुनावी सभा में बांग्लादेशी घुसपैठियों को देश से बाहर फेंकने की बात कही थी.

Also read:  चिराग पासवान ने नितीश कुमार पर किया लगातार हमला: 'सीएम को अभी भी पीएम का इंतजार'

तीसरे चरण के चुनाव प्रचार के दौरान किशनगंज में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए नीतीश ने ये बात कही, जहां मुसलमानों की अच्छी खासी आबादी है. मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन के दौरान अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिये उनकी सरकार द्वारा किये गए कार्यों का भी उल्लेख किया. उनका इशारा नागरिकता संशोधन कानून की तरफ था. उन्होंने कहा कि सबको साथ लेकर चलना ही हमारा धर्म है. उन्होंने भाषण के एक अंश का वीडियो क्लिप साझा करते हुए ट्वीट किया है, “सब को साथ ले कर चलना ही हमारा धर्म है.. यही हमारी संस्कृति है.. सब साथ चलेंगे तो बिहार आगे बढ़ेगा..”

Also read:  नीतीश सीएम बनने के अनिच्छुक: जदयू के खराब प्रदर्शन से दुखी, भाजपा नेताओं ने समझाया