English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-07-27 185931

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी.चिदंबरम ने बुधवार को कहा कि उज्ज्वला योजना के तहत सब्सिडी वाले सिलेंडर की ” ऊंची”कीमत योजना को ”पंगु’ बनाने वाली है।

 

चिदंबरम ने देकर कहा कि पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (सप्रंग) सरकार द्वारा शुरू की गई यह अच्छी योजना मौजूदा सरकार के ” असंवेदनशील रुख” की वजह से व्यावहारिक रूप से खत्म हो गई है।

Also read:  देश में नहीं थम रहा कोरोना का रफ्तार, पिछले 24 घंटों में मिले 27 हजार से ज्यादा मामले

चिदंबरम ने कहा कि उज्ज्वला योजना की सफलता का आकलन लाभार्थियों द्वारा सिलेंडर भराने की दर से किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि केवल 25 प्रतिशत लाभार्थी ही साल में एक-दो या तीन सिलेंडर भरवाते हैं, बाकी महीने वे एलपीजी यानी स्वच्छ ईंधन का इस्तेमाल नहीं करते।

Also read:  5वें राउंड की मीटिंग में किसान संगठनों ने सरकार से मांगा पिछली बैठक में उठाए गए मुद्दों पर लिखित जवाब

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ” ये लाभार्थियों में सबसे गरीब परिवार हैं। यह साबित करता है कि सब्सिडी वाले सिलेंडर की ऊंची कीमत (853 रुपये) योजना को पंगु बनाने वाली साबित हो रही है।” चिदंबरम ने कहा, ”पूर्ववर्ती संप्रग सरकार द्वारा शुरू की गई अच्छी योजना मौजूदा सरकार के असंवेदनशील रवैये की वजह से व्यावहारिक रूप से खत्म हो गई। सरकार का सब्सिडी पर बोझ वर्ष 2018-19 के 37,209 करोड़ रुपये से घटकर वर्ष 2021-22 में 242 करोड़ पर आ गया है।”

Also read:  सबसे पहले भारत को 'कोविशील्ड' की 4-5 करोड़ खुराक मिलेंगी, सीरम इंस्टीट्यूट ने बताया पूरा प्लान