English മലയാളം

Blog

download (2)

साल 2021  विराट कोहली के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं रहा है. उनकी कप्तानी में टीम इंडिया वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में हारी और फिर टी-20 वर्ल्ड कप में भी शर्मनाक प्रदर्शन किया।  कोहली के बल्ले से भी रन नहीं निकल पा रहे।  इन्हीं सबके बीच कोहली ने टी-20 की कप्तानी से इस्तीफा दे दिया, तो बीसीसीआई ने उनसे वनडे की कप्तानी छीन ली. इन दोनों फॉर्मेट में रोहित शर्मा को कमान सौंपी गई।

इतना ही नहीं, कोहली को एक और मामले में रोहित शर्मा और विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने पछाड़ दिया है। दरअसल, इस साल सबसे ज्यादा टेस्ट रन बनाने के मामले में कोहली दुनिया के टॉप-15 खिलाड़ियों की लिस्ट से भी बाहर हो गए हैं. जबकि रोहित और पंत टॉप-5 में काबिज हैं।

Also read:  त्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार में हज यात्रा पर जाने वाले लोगों की संख्या में लगातार इजाफा

रोहित दूसरे नंबर पर काबिज

रोहित शर्मा ने 2021 में कुल 11 टेस्ट खेले, जिसमें 47.68 की औसत से 906 रन बनाए हैं. इसी के साथ वे दुनिया के टॉप स्कोरर में दूसरे नंबर पर काबिज हैं. उनसे ऊपर सिर्फ इंग्लिश कप्तान जो रूट हैं, जिन्होंने अब तक 14 टेस्ट में 64.33 की औसत से 1544 रन जड़ दिए हैं. वे अभी एशेज सीरीज भी खेल रहे हैं, ऐसे में उनके पास 2 हजार रन बनाने का भी मौका है।

Also read:  सासंद वरुण गांधी ने केंद्र सरकार पर कसा तंज, पूछा-देश में एक करोड़ स्वीकृत पद खाली का जिम्मेदार कौन?

टॉप-10 में सिर्फ तीन ही भारतीय

टॉप-10 स्कोरर में तीन भारतीय बल्लेबाज शामिल हैं। रोहित के अलावा ऋषभ पंत 11 टेस्ट में 706 रन बनाकर चौथे नंबर पर हैं। वहीं, चेतेश्वर पुजारा ने 13 टेस्ट में 686 रन बनाए हैं। इसी के साथ वे छठे नंबर पर मौजूद हैं। हालांकि, पंत और पुजारा को इस महीने एक और टेस्ट खेलना है. यह मैच साउथ अफ्रीका में 26 दिसंबर से होगा। ऐसे में दोनों के पास और ऊपर आने का मौका रहेगा।

Also read:  Russia Ukraine War: भारतीय छात्रों ने कुत्ते और बिल्लियों को भी बचाकर भारत लाए, पेश की मानवता की मिसाल

कोहली 500 का आंकड़ा भी नहीं छू सके

विराट कोहली ने इस साल टेस्ट में 500 रन का आंकड़ा भी नहीं छुआ है. उन्होंने 10 टेस्ट में सिर्फ 483 रन बनाए हैं. इस दौरान उनका औसत सिर्फ 28.41 का ही रहा है। हालांकि, उनको भी इस साल एक और टेस्ट खेलना है। ऐसे में उनके पास यह रिकॉर्ड थोड़ा सुधारने का मौका रहेगा. यह मैच साउथ अफ्रीका में 26 दिसंबर से होगा।