English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-07-17 155741

तमिलनाडु में कल्लाकुरिचि के निकट एक छात्रा की मौत के बाद गुस्साए लोगों ने दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग करते हुए रविवार को गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया और पथराव भी किया।

 

पुलिस की तितर बितर करने की कोशिश नाकाम, फिर इकठ्ठा होकर गाडियों को किया आग के हवाले

पुलिस ने बताया कि प्रदर्शनकारी चिन्नासलेम में स्थित एक स्कूल में पुलिस के अवरोधों को तोड़ते हुए घुस गए और उन्होंने परिसर में खड़ी बसों में आग लगा दी। उन्होंने बताया कि कुछ लोगों ने पुलिस की बस में भी आग लगा दी।

Also read:  एचएच सैय्यद बेलराब ने ओमानी प्रॉमिसिंग स्टार्टअप्स कमेटी की बैठक की अध्यक्षता की

पुलिसकर्मियों ने प्रदर्शकारियों को तितर-बितर करने की कोशिश की, लेकिन थोड़ी देर में वे फिर से इकट्ठा हो गए और तोड़फोड़ की।

छात्रा ने अज्ञात कारणों के कारण तीसरी मंजिल से कूदकर दी जान

पुलिस महानिदेशक सी शैलेन्द्र बाबू ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की और हिंसा करने वालों को चेतावनी दी। उन्होंने चेन्नई में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि हिंसा में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यहां से 15 किलोमीटर दूर चिन्नासलेम में एक निजी आवासीय स्कूल में पढ़ने वाली 17 वर्षीय छात्रा 13 जुलाई को छात्रावास परिसर में मृत पाई गई थी। यह छात्रा छात्रावास की तीसरी मंजिल में बने कमरे में रहती थी और माना जा रहा है कि उसने सबसे ऊपर के तल से नीचे कूदकर जान दे दी।

Also read:  ओमिक्रॉन की रफ्तार हुई तेज, देश में 422 हुआ ओमिक्रॉन का आंकड़ा

प्रकरण की जांच सीबी-सीआईडी से कराने की मांग

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कथित तौर पर यह सामने आया है कि छात्रा की मौत से पहले उसके शरीर पर चोट के निशान थे।

Also read:  रूस पर आर्थिक प्रतिबंध लगाने वाले देशों के खिलाफ रूस ने गैर दोस्ताना देशों की बनाई लिस्ट, जाने कौन से देश लिस्ट में शामिल

पुलिस मामला दर्ज कर जांच कर रही है। छात्रा की मौत के बाद उसके परिजन, रिश्तेदार और उसके गांव पेरिवानासालुर के लोग न्याय की मांग को लेकर लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने छात्रा की मौत के मामले की जांच सीबी-सीआईडी से कराने और दोषियों की गिरफ्तारी की मांग की है।