English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-08-10 183702

भूपेश बघेल ने ट्वीटर पर लिखा, ”आदरणीय श्री नितीश कुमार जी को बिहार राज्य के मुख्यमंत्री और श्री तेजस्वी यादव जी को उप-मुख्यमंत्री के रूप में नई भूमिका के लिए बधाई एवं शुभकामनाएं।”

 

बिहार (Biahr) में सत्ता परिवर्तन पर छत्तीसगढ़ (Chhattishgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने कहा है कि झारखंड (Jharkahnd) में सरकार गिराने की कोशिश करने वालों की खुद की सरकार डूब गई है। उन्होंने कहा है कि जदयू (JDU) के अलग होने से बीजेपी (BJP) के नेतृत्व वाला एनडीए (NDA) अब और कमजोर हुआ है। भूपेश बघेल ने सत्ता संभालने पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को बधाई दी है।

भूपेश बघेल ने क्या कहा है

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक भूपेश बघेल ने कहा, ”वे (भाजपा) झारखंड में सरकार गिराने वाले थे अब खुद की सरकार डूब गई। जो दूसरे के लिए गड्ढा खोदता है वो कई बार खुद भी गिर जाता है। NDA के प्रमुख साथी एक-एक करके साथ छोड़ते जा रहे हैं। पहले अकाली दल, फिर शिवसेना और अब JDU ने साथ छोड़ दिया।”

Also read:  भूपेंद्र सिंह मान ने कृषि कानूनों पर SC की समिति से खुद को अलग किया

बघेल ने कहा कि बिहार में हुआ सत्ता का परिवर्तन 2024 में परिवर्तन का संकेत है। एनडीए का पहले सबसे मजबूत साथी अकाली दल छूटा, फिर महाराष्ट्र में शिव सेना छूटा और अब जेडीयू ने एनडीएन से किनारा कर लिया है। एनडीए के प्रति जो अविश्वास है, उसके एक-एक साथी साथ छोड़कर जा रहे हैं। यह 2024 का संकेत दे रहा है।

Also read:  उत्तर प्रदेश बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष का आज हो सकता है ऐलान, इन नेताओं का नाम सबसे आगे

नीतीश और तेजस्वी को दी बधाई

भूपेश बघेल ने ट्वीटर पर लिखा, ”आदरणीय श्री नितीश कुमार जी को बिहार राज्य के मुख्यमंत्री और श्री तेजस्वी यादव जी को उप-मुख्यमंत्री के रूप में नई भूमिका के लिए बधाई एवं शुभकामनाएं। बिहार में हुआ परिवर्तन 2024 का संकेत है. देश परिवर्तन के लिए तैयार है।”

Also read:  इस्तिमारा का जल्द नवीनीकरण किया जाएगा, भले ही वाहन में यातायात उल्लंघन हो

बिहार का सत्ता परिवर्तन

नीतीश कुमार ने मंगलवार को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन से अलग होने की घोषणा की थी। बाद में आरजेडी, कांग्रेस और वामदलों के महागठबंधन ने नीतीश कुमार को अपना नेता चुन लिया था। नीतीश के राज्यपाल के सामने सात दलों के 164 विधायकों के दस्तखत वाला समर्थन पत्र सौंपते हुए सरकार बनाने का दावा पेश किया था। राज्यपाल ने बुधवार को नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री और तेजस्वी यादव को उपमुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई।