English മലയാളം

Blog

Screenshot 2023-06-19 160145

आगामी लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2024) को लेकर बिहार में राजनीतिक हलचल तेज हो गई है।

जहां बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विपक्षों दलों को एकजुट करने में लगे हैं तो वहीं भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह भी विपक्षी एकता की बैठक के बाद बिहार आएंगे। इधर, प्रदेश के सभी दल अपना-अपना खेमा चुनने की कोशिश में लगे हैं। इसी बीच जाप सुप्रीमो पप्पू यादव ने गठबंधन को लेकर बड़ा बयान दिया है।

Also read:  बारिश के कहर के बाद 4 दिनों तक मिलेगी राहत, 15 जुलाई से फिर होगी झमाझम बरसात

“मैं राजनीतिक रूप से धर्मनिरपेक्ष रहा हूं”

पप्पू यादव ने रविवार को जन अधिकार युवा प्रकोष्ठ की एक दिवसीय बैठक के दौरान ऐलान किया कि वह महागठबंधन का हिस्सा बन सकते हैं। उन्होंने कहा, “हमारी पार्टी की विचारधारा कांग्रेस और महागठबंधन की विचारधारा से मिलती-जुलती है। इसलिए हमारा प्रयास होगा कि समान विचारधारा वाले गठबंधन से जुड़ा जाए।” उन्होंने आगे कहा, “मैं राजनीतिक रूप से धर्मनिरपेक्ष रहा हूं। जहां तक गठबंधन की बात है तो समय आने पर सबको पता चल जाएगा कि मैं किसके साथ जाने वाला हूं।”

Also read:  CCMB का दावा, भारत में कोरोना का BF.7 स्वरूप चीन जितना गंभीर नहीं होगा, सतर्कता बरतना जरूरी

“अल्पसंख्यक विरोधी है केंद्र सरकार”

पप्पू यादव ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि वह धर्म और जाति के आधार पर लोगों को बांटकर अपनी राजनीति कर रहे हैं। केंद्र सरकार अल्पसंख्यक विरोधी है। खास तौर पर मुसलमानों को प्रताड़ित किया जा रहा है। इसलिए हम सबको बीजेपी के खिलाफ मजबूती से लड़ना होगा। इस दौरान पप्पू यादव ने नीतीश कुमार द्वारा उन्हें विपक्षी दलों की बैठक में नहीं बुलाए जाने पर भी नाराजगी जताई। जाप सुप्रीमो ने कहा कि हम रंक हैं और वह लोग राजा हैं। उनके घर में शादी है तो कार्ड तो वे लोग ही भेजेंगे।