English മലയാളം

Blog

पटना: 

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने आज कोरोनोवायरस लॉकडाउन और सीमा पर चीनी आक्रमण के दौरान प्रवासी संकट को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) पर निशाना साधा. राहुल गांधी ने बिहार में अगले सप्ताह होने वाले चुनावों के लिए आज कई रैलियों को संबोधित किया.

विपक्षी गठबंधन के नेता राहुल गांधी और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) ने नवादा में एक संयुक्त रैली को संबोधित किया. उनका अभियान पीएम मोदी और बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की रैलियों के पहले दिन से ही शुरू हुआ. बिहार की रैली में पीएम मोदी की टिप्पणी ” गलवान घाटी में देश के लिए शहीद हुए जवानों के समक्ष नमन ” को लकेर कांग्रेस नेता ने पीएम पर चीनी आतंकवादियों से भारतीय क्षेत्र की रक्षा करने में विफल रहने का आरोप लगाया.

Also read:  भारत-अमेरिका '2 + 2' वार्ता में, अमेरिकी मतदान से पहले प्रमुख रक्षा समझौते की उम्मीद

राहुल गांधी ने कहा. “मोदीजी ने कहा कि वह बिहार के सैनिकों के सामने अपना सिर झुकाते हैं. पूरा देश शहीदों के सामने झुकता है, लेकिन यह सवाल नहीं है. सवाल यह है कि जब बिहार के युवा सैनिक कार्रवाई में मारे गए, तो पीएम ने क्या कहा और क्या किया.”  उन्होंने आगे कहा, “पीएम ने झूठ बोलकर कहा कि चीन ने हमारे क्षेत्र में प्रवेश नहीं किया है. हमारे जवानों की मृत्यु होने पर पीएम कहां थे?”

Also read:  LAC पार करके भारतीय सीमा में घुसा चीन का सैनिक, भारतीय जवानों ने पकड़ा

प्रवासियों के संकट पर बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कोरोनोवायरस लॉकडाउन ने लाखों मजदूरों को अपने घरों और नौकरियों को गंवाने के बाद अपने राज्यों की तरफ चलने के लिए मजबूर किया,

 

गांधी ने कहा: “वे कहते हैं कि वह मजदूरों के सामने झुकते हैं, लेकिन जब उन्हें वास्तव में उसकी ज़रूरत होती है, तो वह कुछ नहीं करते है. आप हजारों किलोमीटर तक पैदल, प्यासे और भूखे रहते हैं, लेकिन मोदीजी ने आपको ट्रेन नहीं दी. सरकार ने कहा कि तुम मर जाओ, मुझे परवाह नहीं है.”

Also read:  PM Modi ने कोविड-19 के खिलाफ एकजुट लड़ाई का फिर किया आह्वान, इन बातों को याद रखने की अपील की

राहुल गांधी ने कहा, यह वास्तविकता थी और बिहार आखिरकार इसे जान लेगा. बिहार नीतीश कुमार और नरेंद्र मोदी को उचित जवाब देगा. मोदीजी को सही जवाब मिलेगा.”